TitBut


साली राजी तो क्या क...
 
Notifications
Clear all

साली राजी तो क्या करेगा काजी-२

 Anonymous
(@Anonymous)
Guest

हेलो दोस्तो !

मेरी पहली कहानी के लिए कई मेल मुझे मिले। हर एक की सोच एक सी नहीं होती।

माँ और बीवी के घर आने के बाद हम लोग अब एक जीजा-साली की तरह व्यव्हार करने लगे और रात होने का इंतजार भी कर रहे थे और मन ही मन ये सोच कर लण्ड खुश हो रहा था कि आज एक और कुंवारी चूत मिलेगी। खैर दिन कट गया और रात आ गई। फिर हम सभी लोगों ने एक साथ खाना खाया। मम्मी-पापा अपने कमरे में चले गए और हम लोग भी अपने कमरे में आ गये, मैं, मेरी बीवी और साली !

साली ने मेरी ओर ऐसे देखा कि जैसे मुझे बुला रही हो। मैं उसका इशारा समझ गया। मैं बीवी से थोड़ा सा खेला और उससे बोला कि अब तुम सो जाओ मैं भी सो जाऊंगा ! और इतना बोल के मैं उसके चुचूक चूसते-२ सोने का नाटक करने लगा और वो सो गई।

मैंने साली को इशारा किया वो समझ गई कि अब जीजू का लण्ड मिलेगा !

मैंने उसे इशारे से दूसरे कमरे में आने को कहा और वो धीरे से उठ कर आ गई। मैंने कमरे की कुण्डी लगा दी और उसे पकड़ कर खूब किस करने लगा। किस करते समय मुझे यह एहसास हुआ कि वो गाऊन के नीचे कुछ नहीं पहने है। उसकी कड़ी-२ चूची मुझे पागल बना रही थी। मैं गाऊन के ऊपर से उसकी चूची मसलने लगा। क्या मस्त चूची थी दोस्तो ! मेरा लण्ड खुशी के आंसू रोने लगा। मैंने उसका गाऊन उतार कर उसे नंगा कर दिया और उसकी चूची मुंह में ले कर चूसने लगा, हाथ की उंगली बुर में डाल कर पानी निकालने लगा।

फिर साली को लिटा कर दोनों टाँगे खोल कर जीभ बुर में डाल कर खूब बुर चाटी जब तक पूरा पानी नहीं निकल आया।

मैंने साली से बोला- माय लव ! अब तुम मेरा लण्ड चूसो !

वो उठी और लण्ड पकड़ के मुंह में डाल लिया और अंदर बाहर करने लगी। मुझे खूब मस्ती छाने लगी। साली मेरा लण्ड चूसते-२ पूरा रस निकाल कर पी गई।

मैं और वो एक-एक बार स्खलित हो चुके थे लेकिन अब समय था बुर-लण्ड का मिलन करने का !

सो हम लोग ६९ में आ गए और एक दूसरे को चाटने लगे। कुछ देर तक चाटने के बाद हम लोग फिर तैयार हो गए। इस बार मैंने साली से कहा- सीधे लेट जाओ !

वो लेट गई। मैंने उसकी बुर देखी। क्या बुर थी, एक दम मस्त-२ ! किसी को भी खड़ा-२ झाड़ दे ! इतना दम है उसकी बुर में !

मैंने उसकी बुर में लण्ड डाला तो आ आया आ आय आ आह्ह्ह्ह्ह् ह्ह्ह उह्ह्ह्ह्ह्ह् ह्ह्ह्ह्ह्ह् की आवाजें निकालने लगी। मैंने झटके देने बंद नहीं किया, लगातर झटके देता रहा और करीब २५ मिनट तक मैंने उसकी चुदाई करी !

वो दो बार झड़ी। जब मेरा माल निकलने का समय आया तो मैंने लण्ड बाहर निकाल कर उसके मुंह में लगा दिया। वो लॉलीपॉप की तरह मेरा लण्ड चूसने लगी। मेरी पूरी मलाई उसके मुंह में भर गई !

दोस्तो, यह तो पहला राउंड है आगे अभी और कहानी है, अपनी राय भेजते रहिये। इस कहानी के १२० भाग हैं, हर भाग में कुछ नया मिलेगा लेकिन चूत, लण्ड, चूची, बुर हर भाग में जरूर होंगे।

Quote
Posted : 24/11/2010 4:17 pm
CONTACT US | TAGS | SITEMAP | RECENT POSTS | celebrity pics