Post Reply 
मेरी डायरी के कुछ पन्ने
10-02-2010, 09:44 AM
Post: #21
RE: मेरी डायरी के कुछ पन्ने
थोड़ी देर बाद दीदी बोली – राजन पैंट पहनो और अपने कमरे में जाकर सो जाओ
मै उनकी चुचियों से खेलता हुआ बोला - उं….रहने दो ..मै यहीं ऐसे ही तुम्हारी बाँहों में सोऊँगा….अभी तो तुम्हारी चूत मारनी बाकी है | वो हडबडाते हुए बोली - नहीं अभी नहीं …तेरा मन नहीं भरा क्या ? ….अभी तो मेरी गांड मार के हटा है …ये कहते हुए वो अपनी चूचियों से भी मेरा हाथ हटाने लगी |
मै बोला – अभी नहीं तो रात में तो दोगी
वो बोली - रात का रिस्क मै नहीं ले सकती …अगर बुआजी उठ गयी तो ..?
मै बोला - माँ नहीं उठ सकती …उन्हें हाई बी .पी . है और वो नींद की गोली खाकर सोती है …वो तो झकझोड़ कर उठाने पर भी नहीं उठती …

(मुझे छह महीने पहले की घटना याद आ गयी ..रात के करीब तीन बजे हलके भूकंप के झटके महसूस होते ही मै जागकर अपने कमरे से बाहर आँगन में आ गया …बाहर मोहल्ले में भूकंप – भूकंप का शोर मच रहा था …तब मुझे माँ की याद आयी तो दरवाजे से चिल्लाकर माँ को जगाने लगा ,तब भी माँ नहीं उठी थी ..तब मै अपने कमरे में जाकर अपनी और माँ के कमरे के बीच इंटरकनेक्टिंग दरवाजे को खोला ..(वो दरवाजा मेरी तरफ से ही बंद रहता है ..शायद माँ , ऐसी ही किसी इमरजेंसी को सोंचकर अपने तरफ से खुला रखती है ) और फिर माँ को झकझोड्कर जगाने लगा परन्तु उनकी नींद नहीं खुली …तब मैंने बड़ी मुश्कील से उन्हें बांहों में भरकर बिस्तर से उतारकर नीचे खडा किया ..(वो काफी भारी है ..उनके कुल्हे चौड़े हैं और बदन काफी मांसल है …उठाने के क्रम में उनकी गुदाज गोलाइयों ने मेरे सीने से मादक रगड़ खाई थी तब मुझे जीवन में पहली बार उत्तेजना का संचार हुआ था ..लेकिन उस समय मुझे केवल उन्हें सही -सलामत बाहर निकालने का ही ख्याल आ रहा था . .) जब मैंने उन्हें अपने कंधे का सहारा देकर थोड़ी दूर चलाया तब जाकर उनकी नींद खुली थी …बाहर शोर और बढ़ गया था ..बाहर निकलकर देखा तो तकरीबन सारे स्त्री -पुरुष अस्त -व्यस्त कपड़ो में ही बाहर निकले हुए थे …..)

फिर दीदी बोली – अच्छा !! चलो रात की बात बाद में सोंचेंगे …अभी तुम अपने कमरे में जाओ …
मै बोला - यहीं सोने दो न …यहाँ क्या दिक्कत है ?
वो बोली - अरे नहीं ! अगर कोई आया तो बिस्तर , तुम्हारी और अपनी हालत सुधारने में समय लगेगा कि नहीं ….और अगर देर लगेगी तो किसी को भी शक हो सकता है …
मै उनकी बात से सहमत होते हुए उठकर निकर पहनने लगा और जाकर अपने कमरे में सो गया ..

Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
Find all posts by this user
Quote this message in a reply
Post Reply 


Possibly Related Threads...
Thread:AuthorReplies:Views:Last Post
  मेरी बहन है मेरी पत्नी Sexy Legs 12 203,517 08-31-2011 02:05 AM
Last Post: Sexy Legs