Post Reply 
पेहला सेक्स
09-20-2010, 09:38 PM
Post: #1
पेहला सेक्स
हेल्लो। मैन रिचा हून पतिअला से। मैन बतेच कि सतुदेनत हून। मैन आपको अपनि कहनि बतने जा रहि हून जो मेरे सथ उस समय बीति जब मैन 12थ सलस्स के एक्समस देकर फ़री हुयी थि। मेरे परेनतस अरे गोवत। एमपलोयी हैन। इस लिये मैन घर मैन अकेलि रेहति थि। हमरा एक नौकर जिसका नाम कल्लु है, भि हमरे सथ रेहता है। उसकि उमर करीब 30 साल है और वूह एक अछा सेहत मनद और तकतवर आदमि है।।
एक दिन मैन अकेलि बैथि थि। परेनतस अभि अभि ओफ़्फ़िसे गये थे। कल्लु मेरे पास अया और केहने लगा, कया कर रहे हो। मैन बोलि, कुछ भि तो नहिन। वूह बोला, मेम सहिब अगर बुरा ना मनो तो एक बात बोलून। मैन बोलि, कहो।।
उसने कहा, मेम सहिब आज मुझे अपनि घर वलि कि बहुत याद आ रहि है। उसकि घरवलि नेपल के गऔन मे रेहति है। मैने कहा, बोलो मैन कया कर सकति हून। वहो बोला मेम सहिब मेरे सथ थोरि देर बात कर लेन। इस्से मेरा जी थोरा हलका हो जयेगा। मैने कहा, नो परोबलेम। मैन उसके घर परिवर के बरे मैन पुछने लग गयी। बातोन बातोन मैन वोह बोला मेम सहिब हुम अपनी विफ़े के सथ बहुत मज़ा लेते हैन। मैने बोलि, तुम कया बात कर रहे हो। कौन सा मज़ा लेते हो? वहो बोला मेम सहिब सेक्स का बहुत मज़ा लेते हैन। मैन पूछ बैथि, येह सेक्स मैन कया मज़ा होता है। उसने कहा, मेम सहिब आज आपको पूरि देतैल मैन समझता हून।
फिर उसने कहा, पेहले मैन उसके सारे कपरे उतर देता हून, फिर उसके सारे शरिर को छूमता हून, फिर उसके बदन पर अपना हाथ फिरता हून, ऐसा करने से वूह भि मसत हो जाती है। मैन फिर उसके मम्मे चूसता हून। मैने उसको तोक दिया, मुझे कुछ भि समझ नहिन आ रही है। वहो बोला मेम सहिब फ़िकर नोत, मैन आपको परसतिसल करके बतता हून। इस्से पेहले मैन कुछ समझ सकति वूह मुझे चूमने लगा। मैने उसको एक जबरदसत धक्का दिया और वूह दूर जकर गिरा। वूह मेरे पास आया और बोला आज तो मैन तुमहे नहिन छोदुनगा। उसने मुझे बालोन से पकर लिया और अफि तरफ़ खीनच लिया। मैन उस दिन सकिरत तोप पेहने थि। उसने मेरे दोनो हाथो को पकर लिया और एक हाथ से पीथ के पीछे अपने एक हाथ से कस दिये। और वूह मेरे लिपस को चूसने लगा। उसकि सानसो से शरब के समेल्ल आ रहि थि। मैन उस्से छूतने के लिये जोर लगा रहि थि पर वूह एक तकतवर आदमि था। वूह बोला रिमपि मेम सहिब, तुमहरे लिपस बहुत रसदार हैन।
इतने रसभरे लिपस तो मेरि घर वलि के भि नहिन हैन। इ सैद, कल्लु बहुत हो गया। अब मुझे छोद दो वरना मैन तुमहरा बहुत बुरा हाल करवऊनगि। वहो बोला मेम सहिब, मैन आज 4 बजे कि गादि पकर कर निकल जऔउनगा। तुम लोग मुझे धूनधते हि रह जओगे। पर जने से पेहले मैन तुमहरि अछि तरह चुदै करना चहता हून। अब मैन बुरि तरह दर गयी और छूतने के लिये जोर लगने लगी। अचनक मेरा एक हाथ उसकि गिरफ़त से छूत गया और मैने उसके एक जोरदर पुनच लगा दिया। वहो बोला मेम सहिब, तुमहरे हाथ तो सिरफ़ पयर करने के लिये हैन। उसने मुझे पीथ के पीछे से पकर लिया और मुझे लेकर सोफ़ा पर बैथ गया। मैन उसकि गोद मैन बैथि थि। उसने अपने हाथ मेरे पैत पर चलना शुरु कर दिया। फिर धीरे धीरे वूह अपना हाथ को उपर मेरि छति पर लने लगा। मैन भि उस्से बचने के लिये जोर लगने लगी और उसके हाथोन को पिछे करने लगी। अचनक उसका हाथ मैरि छति पर आ गया। वूह मेरि छति को कस कर दबने लगा। येह मेरे लिये बहुत पैनफ़ुल था।
मैन चिल्लये, ऊऊऊईईईईईई छोद दो मुझे, पर उसने मेरे मम्मो को मसलना जरी रखा। फिर दूसरे हाथ से उसने मेरे तोप का बुत्तोन खोल दिया। वहो अपना हाथ तोप के अनदर ले गया। और मेरे मम्मोन को दबने लगा। जीवन मैन पेहलि बार किसि का हाथ मेरे मम्मोन पर लगा था। कुछ समय के लिये उसका तौच मुझे अछा लगा पर वूह बहुत जोर जोर से दबा रहा था। मुझे दरद भि बहुत हो रहा था। फिर उसने मेरे निप्पले को धूनध कर उसे मसलना शुरु कर दिया। अब मेरे तन बदन मैन एक मसति सि छनि शुरु हो गयी थि। पर वूह इस्से अनजन था। थोरि देर के बद उसने अपने दूसरे हथ से मेरे तोप को थोरा उपर उथया और फिर दोनो हाथोन से एक झतके साथ तोप को उतर कर फैनक दिया।। फिर उसने मेरि बरा के सत्रप नीचे कर दिये और मेरे मम्मे बरा से बहर आ गये। उसने दोनो मम्मोन को पकर लिया और धीरे धीरे दबने लगा। पर अब मैन कोइ सत्रुग्गले नहिन कर रहि थि। उसने मुझे खरा किया और मेरि सकिरत का हूक खोल दिया और एक झतके के सथ मेरि सकिरत और पनती को उतर दिया। इस तरह उसने मुझे पूरि तरह ननगि कर दिया। फिर उसने अपनि शिरत और लुनगि खोल दी। वहो भि पूरि तरह ननगा था।
उसका शरिर बहुत सत्रोनग था और उसका लुनद करीब 9 इनच का था और करीब 2 इनच मोता था। मैन उसे देख कर बहुत दर गयी। उसने मुझे पकर कर बेद पर लिता दिया और मेरे उपर सवर हो गया। पेहले उसने मेरे सरे शरिर को चूमा फिर उसने मेरे मम्मो को दबया फिर उनहे अपने मूह मैन लेकर बरि बरि चूसने लगा। एक मसति का एहसास मेरे दिलो दिमग पर हावि होने लगा। मेरि चूत मैन एक मसति भरि खरिश होने लगी। मेरे निप्पले तन कर खरे हो गये थे। उसने अपना लनद मेरि चूत पर तिका दिया और एक झतका लगा दिया। लुनद थोरा सा अनदर चला गया।
मैन चीख परि, आआयययययीईईईईईईए
आआआआआआआआआआआआआह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह
ऊऊऊऊऊओह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्ह
हैईईईईईईई माआआअर्रर्रर्रर्रर्रर्रर्र गाआआयययययीईईईईईईईईईईईईई
नाआअह्हह्हह्हह्हीईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईईइन्नन्न
फिर उसने एक जोरदर झतका मर दिया और लनद करीब अधा अनदर चला गया। मेरि सील भि तूत गयी। मेरि चूत से खून बेहने लगा। मैन चीखना चहति थि पर उसने मेरे लिपस को अपने लिपस मैन लेकर दबा रखा था। वहो बोला मेम सहिब तुम बहुत मसत हो। आज तुमहरि सेअल तोरने मैन मज़ा आ गया। उसने एक और जोरदर झतका लगया और उसका लुनद पूरि तरह मेरि चूत मैन घुस चुका था। मैन चीखना चहति थि पर चीख नहिन सकति थि। मैरि आनखो से आनसु तपक रहे थे। वहो बोला थोरि देर रुक जता हून। फिर उसने मेरे मम्मोन को चूसना शुरु कर दिया। इस्से मुझे बहुत आरम मिला और मेरा दरद कम हो गया। फिर उसने धीरे धीरे लुनद को अनदर बहर करना शुरु कर दिया। फिर दरद कि एक लेहर उथि पर अब साथ मैन मज़ा भि आ रहा था। कुछ देर बाद दरद पूरि तेरह खतम हो गया। अब तो बस मज़ा हि मज़ा था। उसने पूरि मसति के सथ मेरि चुदै कि। मैने भि अपनी गानद को उथा कर उसका सथ दिया। थोरि देर के बद मैन ओवेर हो गयी। पर वूह अभि तक पूरि जोर से चुदै कर रहा था।
उसने मेरि तानगे उपर उथा दि। फिर उनको लेफ़त घुमा दिया और मेरि गानद से पकर कर मुझे घोरि बना दिया। इस पोसितिओन मैन मुझे बहुत मज़ा आया और मैन एक बार फिर से सलिमक्स तक पहुनच गयी। पूरे ओने हौर कि चुदै के बाद वूह थनदा हुअ। 15 मिनुते के बद उसने फिर से मुझे पकर लिया और मेरि चूत को चातने लगा। उसने अपने तोनगुए मेरि चूत के अनदर घुसा दी। मैन फिर से अननद के सगर मैन गोते लगने लगी। अब कि बार उसने मुझे लिता दिया और अपना लुनद मेरे मूनह मैन दाल दिया। और तोनगुए से मेरि चूत को चातने लगा। इस तेरेह मैन एक बार फिर ओवेर हो गयी। अब कि बार उसने मुझे बेद के सहरे खरा कर दिया और मेरि गानद मैन अपना लनद गुसेर दिया। उस्से मुझे बहुत जयदा दरद हुया। करीब हलफ़ हौर तक पुमप करने के बाद वूह थनदा हो गया। मेरा एक एक अनग दुख रहा था। उसके बाद उसने 330 तक मेरि पानच बार चुदै कि और फिर जलदि से अपने कपरे लेकर भग गया। जते जते उसने कहा, मेम सहिब मैन आपको हमेशा याद रखूनगा। तुम मेरि सेक्स कि देवि हो। जो मज़ा तुमने मुझेदिया है वूह आज तक किसि भि औरत मैन नहिन है।
उस दिन के बद येह बात मैने किसि को भि नहिन बतयी, पर मैन अपनि पेहलि चुदै को हमेशा याद रखुनगि। सच मैन, मैने भि इसमे कफ़ी मज़ा लिया था।

Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
Find all posts by this user
Quote this message in a reply
Post Reply 


Possibly Related Threads...
Thread:AuthorReplies:Views:Last Post
  झंडाराम और ठंडाराम - सेक्स का गेम खेला अपनी पत्नियों के साथ Le Lee 5 5,954 03-20-2018 04:41 PM
Last Post: sanpiseth40
  सेक्स-चैट Le Lee 5 4,713 07-18-2017 04:10 AM
Last Post: Le Lee
  फ़ोन सेक्स - मोबाइल फ़ोन सेक्स Sex-Stories 190 172,462 08-04-2013 09:36 AM
Last Post: Sex-Stories
  दो वेश्या के साथ देसी सेक्स Sex-Stories 0 14,602 06-20-2013 10:22 AM
Last Post: Sex-Stories
  सेक्स और संभोग Sex-Stories 0 12,911 05-16-2013 09:11 AM
Last Post: Sex-Stories
  जानते है उन्हें क्या चाहिए - सेक्स Sex-Stories 23 19,777 04-24-2013 03:18 PM
Last Post: Sex-Stories
  किंग आफ सेक्स Sex-Stories 8 19,816 12-29-2012 02:20 PM
Last Post: Sex-Stories
  पापा मम्मी और सेक्स Sex-Stories 0 45,375 12-11-2012 08:52 AM
Last Post: Sex-Stories
  सेक्स एक्सपेरिएंस Sex-Stories 7 11,764 09-03-2012 11:54 PM
Last Post: Sex-Stories
  आंटी गुलबदन और सेक्स के सात सबक Sex-Stories 26 29,505 08-26-2012 10:34 PM
Last Post: Sex-Stories