जेठ से चुदवाया और उनकी गांड मारी
मेरा नाम रानी है, मैं मध्य प्रदेश से हूँ, मेरी उम्र 38 साल हैं पर मैं 30 साल से ज़्यादा की नहीं लगती हूँ मेरे बूब्स का साइज़ 34C, कमर 30, कूल्हे (गांड) 36, रंग गोरा और क़द (हाईट) 5 फिट 4 इंच है । मैं शादीशुदा हूँ मेरे 2 बच्चे है (मेरे बच्चे ऑपरेशन से हुये हैं तो इसलिए अभी भी मेरी चूत ढीली नहीं हुयी है) मेरे मियां की उम्र 48 साल है, उनका नाम नौमान है उनका क़द 5 फिट 6 इंच है और लंड का साइज़ पाँच इंच और मोटाई करीब 2 इंच है। वो एक कंपनी में फील्ड ऑफिसर हैं और अक्सर टूर पर रहते हैं । अच्छी तंखा (वेतन) है ज़िंदगी ऐश से गुज़र रही है । मेरे मियां और उनके बड़े भाई एक ही मकान मैं रहते हैं, ग्राउंड फ्लोर गोडाउन के लिए किराए पर दिया है, सेकंड फ्लोर पर हम रहते हैं और फ़र्स्ट फ्लोर पर मेरे जेठ का फ़ैमिली रहती है । जेठ का नाम अमन और जेठानी का नाम सोनिया है । मैं आगे जेठ और जेठानी को उनके नाम से ही बुलाऊंगी । अमन के घर मैं उनकी बीवी और 2 बच्चे रहते हैं । मेरे जेठ यानि अमन की उम्र 53 वर्ष है और क़द 6 फिट के करीब है और जेठानी यानि सोनिया की उम्र 46 साल है, मेरी जेठानी के बूब्स 38 D है और कसे हुये हैं, कमर 36, कूल्हे (गांड) 40 है, क़द 5 फिट 2 इंच, रंग गोरा है और बदन गठीला है ।
मेरी सोनिया से सेक्स के बारे मैं अक्सर बात होती रहती है और हम एक दूसरे को अपनी चुदाई के बारे मैं बताते हैं । सोनिया ने बताया की अमन यानि मेरे जेठ का लंड का साइज़ साड़े छे इंच है और करीब तीन इंच मोटा है । मेरे मियां को ब्लू फिल्म देखना का शौक था और मेरे जेठ को भी ब्लू फिल्म देखना का शौक था । मेरे जेठ हर हफ़्ते सनीचर की रात को वी सी आर और ब्लू फिल्में किराए पर लाते थे (यह करीब 19 साल पहले की बात है जब वी सी आर और कैसेट किराए पर मिलते थे) । मेरी जेठानी भी जेठ के साथ ब्लू फिल्म देखती थी और मुझे बताती थी की कैसे दो – तीन मर्द एक औरत को चोद रहे थे या नीग्रो अपने बड़े काले लंड से चोद रहा था । जेठ सनीचर को पूरी रात ब्लू फिल्म देखते और सोनिया को चोदते। एक दिन मैंने सोनिया से कहा की हमें भी (मेरे मियां और मुझे) ब्लू फिल्में देखना हैं, जेठ जी कहाँ से वी सी आर और कैसेट लाते हैं । तो सोनिया ने कहा की मैं अमन से पूँछ कर बताऊँगी । अगले सनीचर पर जेठानी ने बताया की अमन ने एक तरकीब बताई है जिससे हमारे साथ तुम लोग भी ब्लू फिल्में देख सकते हो और तुम लोगों के पैसे भी खर्च नहीं होंगे तो मैंने कहा बताओ क्या तरकीब है तो सोनिया ने कहा की अमन कह रहा है की वी सी आर के साथ एक और केबल जोड़ कर तुम्हारे कमरे के टीवी मैं लगा देंगे जिससे तुम लोग भी ब्लू फिल्में देख सकते हो (उस वक़्त मेरे और जेठानी का कमरा पास पास था फ़र्स्ट फ्लोर पर ही था) मैंने अपने मियां से पूंछा तो वो राज़ी हो गए तो मैंने सोनिया को हाँ कर दी, मेरे जेठ ने एक केबल ला कर हमारे टीवी को भी अपने टीवी से जोड़ दिया फिर हर सनीचर की रात को जेठ वी सी आर और ब्लू फिल्में किराए पर लाते और जेठ जिठानी अपने कमरे मैं और हम अपने कमरे मैं एक ही ब्लू फिल्में देखते और रात भर चुदाई करते, अमन बहुत ही ज़बरदस्त ब्लू फिल्में लाते थे ग्रुप सेक्स की कई बार कुत्ते घोड़े से औरत की चुदाई की फिल्में भी लाते । कई बार ऐसा होता की ब्लू फिल्म देखते हुये हमें बाथरूम जाना होता था तो कभी मेरा सामना जेठ से हो जाता था, वो भी बाथरूम के लिए बाहर निकलते थे, हमारी नज़र मिलती थीं तो मैं नज़र नीचे कर लेती थी क्यूंकी हम दोने एक ही चीज़ अलग अलग कमरे मे देख कर निकलते थे । मैं दिल मैं सोचती थी की अमन अपने लंड से अभी सोनिया को चोद कर आए हैं अपना लंड साफ़ करने और अमन सोचते होंगे की रानी नोमान से चुदवा कर अपनी गीली चूत साफ़ करने आई होगी । कई साल तक ऐसा ही चलता रहा । फिर मेरे जेठ ने और मेरे मियां ने कम्प्युटर ले लिया तो नेट पर हम अलग अलग फिल्में देखने लगे, मेरे जेठ अमन कोई अच्छी फिल्म की डीवीडी लाते या नेट से डाउन्लोड करते तो सोनिया वो डीवीडी या पेन ड्राइव लाकर मुझे दे देती मेरे कम्प्युटर मैं कॉपी करने की लिए दे देती और कभी नौमान लाते तो मैं सोनिया को दे देती, वैसे तो अमन ही अक्सर डीवीडी या पेन ड्राइव लाते थे । अमन को ऑनलाइन नेट से सोनिया के लिए ब्रा, पेंटी व सेक्सी लिंगेरी (सेक्सी अंतर्वस्त्र) मंगाते थे जो सोनिया मुझे दिखाती थी । उसमे से मुझे जो पसंद आ जाता वो मैं सोनिया से कहती की अमन से कह कर मेरे लिए भी नेट से मँगवा दे तो सोनिया मेरा बूब्स का साइज़ 34C अमन को बताकर मेरे लिए भी कई बार ब्रा-पेंटी मँगवा देती थी।
मेरे मियां मुझे हफ्ते मैं 2 बार चोदते हैं और कभी कभी गांड भी मारते हैं, मैं चाहती हूँ की मेरे मियां मुझे हफ्ते मैं कम से कम 4-5 बार चोदें । सोनिया ने बताया की उनके मियां यानि अमन को तो अब भी 51 साल की उम्र मैं रोज़ चूत या गांड चाहिए पर वो उन्हें कई बार मना कर देती है लेकिन फिर भी 51 साल की उम्र मैं वोह सोनिया को हफ्ते मैं 4-5 बार ज़रूर चोदते हैं और गांड भी मारते हैं । यह सुन कर मेरी चूत गीली हो जाती है क्योंकि मुझे भी ऐसी ही चुदाई और गांड मरायी चाहिए थी, हालांकि मैं अपने मियां की चुदाई से संतुष्ट थी पर फिर भी मुझे और चुदाई चाहिए थी । सोनिया ने बताया की उनके मियां यूनानी (हकीमी) सेक्स पावर बढ़ाने की 2-3 माजून व गोली खाते हैं जिससे उनका लंड चोदते वक़्त लोहे की राड की तरह खड़ा रहता है और वो उन्हे जम कर चोदते हैं । जेठानी की चुदाई की बातें सुन सुन कर मेरी चूत के पानी से मेरी पेंटी गीली हो जाती है ।
सोनिया ने बताया की अमन कई बार उनका मसाज भी करते हैं और अमन ने 2-3 डिल्डो यानि नकली लंड भी नेट से मंगवा रखे थे उससे भी सोनिया की चुदाई करते हैं । एक डिल्डो ऐसा है जिसे सोनिया अपनी चूत मैं फंसा कर कभी कभी अमन की गांड भी मारती है ।
यह सब सुन सुन कर मेरे दिल भी यह सब करने की लिए मचल उठा मैंने सोचा की क्यूँ न अमन यानि मेरे जेठ को पटाकर चुदवाया और गांड मरवाई जाए और उनकी भी गांड मारी जाए (क्यूंकी हमने सेंकड़ों ब्लू फिल्में साथ साथ देखी थीं भले ही अपने अपने कमरे मैं पर देखी तो थीं, इसलिए अमन को भी मालूम है की मैं कितनी सेक्सी हूँ और चुदाई की खिलाड़ी हूँ) तो मैंने अपने जेठ को पटाने की शुरुआत कर दी । अब जब अमन घर मैं होते तो मैं टाइट लेगिंग और टी शर्ट पहन कर उनके कमरे मैं जा कर सोनिया से बातें करने लगती और अमन से भी करती जाती और सोनिया से नज़र बचाकर उनकी तरफ देख कर कभी अपने दूध दबाती या अपनी चूत खुजाती । अमन कई बार मेरी इस हरकत को देखते और ऐसा कुछ दिन तक चलता रहा मैं जब भी उनके कमरे मैं जाती मुझे ऐसा लगता की वोह भी इंतज़ार करते हैं की कब मैं उनके कमरे मैं आऊँ और अपने दूध और चूत खुजाऊँ क्यूंकी मैंने देखा की मेरे ऐसा करने से उनका लंड खड़ा हो जाता था और झटके खाने लगता था और उनके लोअर मैं उपर नीचे होने लगता था । यह देख कर मेरी चूत गीली हो जाती थी।
एक दिन मुझे मार्केट जाना था मेरे मियां टूर पर गए हुये थे तो मैंने सोनिया से कहा की वह अमन से कहे की मुझे मार्केट ले जाएँ । सोनिया ने अमन से कहा तो वो फ़ौरन तैयार हो गए। मुझे एक शरारत सूझी मैंने सोचा की अमन ने मेरे लिए कई बार नेट से ब्रा मँगवाई है उसे मेरा साइज़ तो पता है क्यूँ न आज उसको अपने बूब्स 34C साइज़ का मज़ा दूँ। तो मैंने अपनी ब्रा उतार कर खाली कुर्ता पहन लिया कुर्ते का कपड़ा पतला था तो मैंने उपर से एक दुपट्टा औढ़ लिया ताकि मेरे दूध किसी को न दिखें और मैं अपने जेठ अमन के साथ उनकी एक्टिवा पर अपनी टांगें फैलाकर लड़कों की तरह बैठ कर मार्केट की लिए चल दी । मैंने पीछे बैठ कर अपना दुपट्टा आगे से थोड़ा ऊपर कर लिया और अमन के थोड़ा पास सरक गई तभी अमन ने एक्टिवा का ब्रेक लगाया तो मेरे दोनों दूध अमन की पीठ से टकरा गए जैसा की मैं चाहती थी ऐसा 2-3 बार हुआ । हम मार्केट पहुँच गए मैंने अपनी ख़रीदारी की और वापस अमन के साथ एक्टिवा पर अपनी टांगें फ़ेलाकर लड़कों की तरह बैठ गई । रास्ते मैं अमन की गाड़ी के सामने एक कुत्ता आ गया तो अमन ने अचानक ब्रेक लगाया तो मेरे दोनों दूध अमन की पीठ से ज़ोर से टकराये मैं थोड़ी देर ऐसे ही दोनों दूध अमन की पीठ से लगा कर बैठी रही फिर थोड़ा पीछे हुई और ठीक से बैठ गई अमन बोला की मुझे पकड़ कर बैठ जाओ नहीं तो गिर पड़ोगी ट्राफिक बहुत है और अचानक ब्रेक लगा सकता हूँ तो मैंने अमन की कमर मैं हाथ डाल कर बैठ गई। अचानक अमन ने फिर ब्रेक लगाया तो दूध फिर उसकी पीठ से टकराये और मेरे हाथ कमर से फिसल कर नीचे चला गया तो मैंने महसूस किया की अमन का लंड खड़ा हो चुका है मैंने अपना हाथ फौरन हटा लिया और थोड़ी देर बाद हम घर वापस आ गए। मुझे यकीन हो गया था की अब मैं जल्दी ही अमन से चुद सकती हूँ, पर कब, कहाँ और कैसे ।
फिर अगस्त 2017 मैं वो दिन भी आ गया जब मैं अमन से चुदवा सकती थी । सोनिया अपने बच्चों के साथ अपने मायके चली गई थी जो हमारे शहर से करीब 25 कि.मी दूर था और वो दो दिन बाद लोटने वाली थी, उसी रात मेरे मियां भी 3 दिन के लिए ऑफिस टूर पर चले गए । अब घर में सिर्फ मैं मेरे बच्चे और जेठ रह गए । मेरे बच्चों के घर मैं रहते मैं अपने जेठ से चुदवा नहीं सकती थी । रात तो मैंने किसी तरह काट ली, सुबह उठ कर मैं सोचने लगी की अमन से किस तरह चुदवाया जाए, तभी मेरे मायके से सुबह करीब 8 बजे फोन आया कि मेरे भाई अपने बच्चों को शहर से बाहर घुमाने ले जा रहे हैं अगर मैं चाहूँ तो वोह मेरे बच्चों को भी ले जाएंगे तो मैंने फ़ौरन हाँ कर दी, तो उन्होने कहा की वो मेरे बच्चों को लेने 10 बजे तक आएंगे । मेरी तो मन कि मुराद पूरी हो गयी । मैंने जल्दी से अपने बच्चों को तैयार होने को कहा । बच्चे घूमने जाने कि तैयारी मैं लग गए। मैंने सोचा कि 10 बजे बच्चे चले जाएंगे और क़रीब 10.30 बजे कामवाली बाई घर कि सफाई करने आ जाएगी और वो एक घंटे बाद जाएगी उसके बाद मैं अपने जेठ अमन से चुदवाऊंगी । मुझे जेठ को भी ब्रेकफ़ास्ट तैयार करके देना था। तो मेरा दिमाग़ मैं एक आइडिया आया कि क्यूँ न मैं अपने जेठ को गर्म करने कि तैयारी अभी से शुरू कर दूँ उस वक़्त मैं एक टाइट लेगिंग्स और लॉन्ग टी शर्ट पहने थी अंदर ब्रा पेंटी कुछ नहीं पहने थी, तो मैंने अपने कमरे मैं जा कर अपनी लेगिंग्स कि नीचे से चूत कि तरफ़ से सिलाई उधेड़ दी फिर मैंने आईने मैं झुक कर देखा तो झुकने पर पीछे से मेरी झांटों वाली चूत और गांड का सूराख़ (छेद) नज़र आ रहा था । मैं जेठ का नाश्ता लेकर उनके कमरे मैं गई तो उस वक़्त मेरे जेठ अपने कम्प्युटर पर कुछ कर रहे थे मुझे देख कर जल्दी से उन्होने अपनी ओपन विंडो को मिनिमाइज़ किया मैंने देखा कि उनका लोअर कुछ उठा हुया है, मैं समझ गई कि वो कोई सेक्सी चीज़ या ब्लू फिल्म देख रहे थे क्यूंकी रात को जेठानी सोनिया तो थी नहीं और उन्हें चोदने को चूत या गांड नहीं मिली होगी । मैंने नाश्ता उनकी टेबल पर रख दिया और कहा की 10 बजे मेरे बच्चे अपने मामू के साथ घूमने जा रहे है और रात तक वापस आएंगे, फिर मैंने उनको चुदाई का सिग्नल देने के लिए मुड़ कर उनकी तरफ़ अपनी गांड करके नीचे कुछ उठाने कि एक्टिंग करते हुये झुक गई मैंने पीछे से अपनी टी शर्ट पहले ही ऊंची करली थी जिससे उन्हें मेरी झांटों वाली चूत और गांड का नज़ारा नज़र आ जाए । मैंने तिरछी नज़रों से देखा तो पाया कि जेठ मेरे पीछे ही देख रहे हैं और उनका हाथ अपने लंड पर रखा है, मैंने अपनी झांटों वाली चूत और गांड का नज़ारा अमन को दिखा कर उनको गर्म करने का काम कर दिया था । यह सब करते हुये मेरी चूत भी गीली हो गई थी और उसमे से पानी निकल रहा था। मैं सीधी खड़ी हुई और अपने कमरे मैं चली गई बच्चो को देखने कि तैयार हुए कि नहीं। मेरे बच्चे जाने कि तैयारी मैं लगे थे । थोड़ी देर बाद जेठ कि आवाज़ आई कि उनको चाय दे दूँ, मैंने सोचा कि चाय देने का बाद मैं एक बार और अमन को अपनी झांटों वाली चूत और गांड का दीदार करा कर और गर्म करूँ । मैं चाय ले कर गई तो मैंने देखा नीचे कुछ समान फैला हुया है मैं समझ गई कि यह जेठ ने जानबूझ कर फ़ैलाया है मेरी चूत और गांड का दीदार करने के लिए, क्यूंकी जब मैं पहले आई थी तो वहाँ कुछ नहीं था । मैं उनके सामने चाय रख कर मुड़ी, मैंने टी शर्ट पीछे से पहले ही ऊंची करली थी और मैं झुक कर नीचे पड़ा हुआ समान उठाने लगी जैसे ही मैं झुकी तभी मुझे अपनी गीली चूत पर गर्म गोले जैसे महसूस हुआ मेरी तो जैसे जान ही निकल गई और मेरी चूत ने और पानी छोड़ दिया और मैं वहीं उसी पोज़िशन मैं रुक गई तभी जेठ ने बिना कुछ बोले मेरी कमर पकड़ ली और अपने गरम लंड का सुपाड़ा मेरी गीली हो चुकी चूत पर रगड़ने लगे और फिर एक धक्के मैं अपना आधा लंड मेरी चूत कि गहराई मैं उतार दिया मेरे मुंह से चीख़ निकलते निकलते बची, अगर मैं चीखती तो मेरे बच्चे आवाज़ सुन लेते और अमन के रूम का दरवाजा भी खुला हुया था, फिर अमन ने धीरे से अपना लंड थोड़ा बाहर निकाला और एक जोरदार धक्का मारकर पूरा साडे छे इंच लम्बा और 3 इंच मोटा लंड मेरी चूत मैं पेल दिया और अपना मुंह मेरे कान के पास लाकर धीरे से बोला, कब तक मेरे लंड के सब्र का इम्तिहान लोगी मेरी रानी आज उसके सब्र का बांध टूट गया उसने अपना रिज़ल्ट दे दिया, मैंने धीरे से कहा मुझे अभी छोड़ दो बाद मैं दिल खोल कर चोदना अभी दरवाजा खुला है और बच्चे नीचे आ सकते हैं तो अमन ने कहा की कोई नहीं आएगा अगर कोई आहट हो तो सीधी खड़ी हो जाना और मैं पीछे घूम जाऊंगा अभी न तुम नंगी हो न मैं। और फिर मेरे जेठ ने अपने दोनों हाथ आगे बढ़ा कर मेरी दोनों चुंचियाँ को टी शर्ट के उपर से कस कर पकड़ लिया और उन्हें मसलने लगा मैंने टी शर्ट के नीचे ब्रा नहीं पहनी थी तो मुझे बहुत अच्छा लग रहा था । मेरी चुंचियाँ मसलते हुये चूत मैं धक्के लगाना शुरू कर दिया मुझे अमन का लम्बा और मोटा लंड एक अलग ही मज़ा दे रहा था मेरे मुंह से सिसकारियाँ निकलने लगी मेरा तो दिल चाह रहा था की ज़ोर ज़ोर से आवाज़ करूँ पर बच्चे ऊपर कमरे मैं थे, मेरे जेठ का कडक लंड मेरी चूत की खुजली मिटा रहा था। क़रीब 7 मिनट तक धक्के मारने के बाद अमन ने अपने लंड का गाढ़ा गाढ़ा माल मेरी झांटों भरी चूत मैं उंधेल दिया, तभी मुझे जैसे होश आया की अमन ने तो कंडोम पहना ही नहीं था और अपनी पूरी मनी मेरी चूत मैं छोड़ दी मैं एक दम सीधी खड़ी हो गए और अमन से कहा की यह क्या किया अंदर ही छोड़ दिया तो वो बोला की डरो नहीं मैं तुम्हें एक गोली दूँगा वो खा लेना तो तुम्हारी माहवारी टाइम से आएगी । मेरी चूत से अमन का गाढ़ा गाढ़ा माल नीचे गिरने लगा, अमन ने अपने पास राखी एक नैप्किन उठा कर मेरी चूत को साफ किया। अभी तक मैंने अमन के लंड के दीदार नहीं किए थे क्यूंकी वो मुझे पीछे से चोद रहा था और अपना माल मेरी चूत में छोड़ने के बाद फ़ौरन अपना लंड लोवर के अंदर कर लिया था । मैं उसका लोवर नीचे कर उसका लंड देखना चाह रही थी की तभी नीचे डोर बेल बजी मेरा भाई मेरे बच्चों की लेना आये थे । मैंने बच्चों को आवाज़ दी की जल्दी से नीचे आओ और मैं बच्चों को छोड़ने नीचे गई, बच्चों को छोड़ कर वापस मुड़ी ही थी की फिर दुबारा बेल बजी मैंने गेट खोला तो सामने कमवाली बाई थी वो अंदर आ गई और अपना काम करने चली गई। फिर मैं उपर अपने कमरे मैं जाने लगी तो अमन ने मुझे रोक कर एक पैकेट दिया, मैंने कहा क्या है तो उन्होने कहा खुद देख लेना ।
मैं अपने कमरे मैं आ गई और मैंने अमन का दिया हुया पैकेट अलमारी रख दिया की कमवाली बाई के जाने बाद खोल कर देखूँगी । मैं बहुत खुश थी क्योंकि आज मेरी चूत और गांड की अच्छे से कुटाई होने वाली थी। मैंने सोचा की अब मैं दिन भर नंगी रहूँगी और अपने जेठ अमन के साथ ख़ूब मौज मस्ती करूंगी । मैंने सोचा की अभी एक डेढ़ घंटा कमवाली घर की सफाई करेगी तब तक मैं अमन को और मदहोश करने की लिए अपनी चूत की झांटें साफ कर लूँ और एनेमा लगा कर अपनी गांड की गंदगी बाहर निकाल दूँ क्योंकि मुझे अमन से अपनी गांड भी मरवानी थी । मैंने शेविंग और एनेमा का सामान लिया और बाथरूम में चली गई मैंने अपने कपड़े उतारे तो देखा की मेरी चूत पर झांटों मैं अभी भी अमन के लंड से निकली मनी लगी हुयी थी मैंने उसेको अपने हाथों से मसल कर सूंघा मुझे उसकी खुशबू बहुत अच्छी लगी । मैंने पहले एनेमा लिया और 10 मिनट बाद अपनी गांड की सारी गंदगी निकाल दी फिर मैंने अपनी बगल के बाल और झांटों को अच्छी तरह साफ कर बिलकुल चिकना किया और मेरी गांड के आस पास भी कुछ बाल थे उनको भी साफ किया । झांटें साफ करने से मेरी चूत बहुत छोटी लग रही थी । मैंने अपनी दोनों टांगों और हाथों को भी शेव कर केर चिकना किया । फिर मैंने सेक्सी खुशबू वाले साबुन और शैम्पू लगाकर नहाया, नहाने के बाद मैंने अपनी बॉडी पर खुशबू वाला बॉडी लोशन लगाया और बाथरोब पहन कर बाहर आ गई और हैयर ड्रायर से अपने बाल सुखाने लगी । यह सब करने मैं मुझे क़रीब 1 घंटा लग गया थोड़ी देर बाद कामवाली अपना कम करके चली गई।
मैंने अमन की दिया हुया पैकेट खोला तो उसमे 2 सेट लिंगरी के थे एक पर्पल रंग का फुल बॉडी सूट था जो बीच मैं से पूरा खुला हुआ था और दूसरा एक लाल रंग का बेबीड़ोल सूट था उसके साथ भी एक सेक्सी छोटी पेंटी (थोंग) थी । मैंने दोनों को पहन कर चेक किया तो दोनों बिलकुल मेरे साइज़ के थे मैं समझ गई की अमन को मेरा ब्रा और पेंटी साइज़ मालूम था इसलिए यह ड्रेस बिलकुल साइज़ के मँगवाए हैं, तो मेरे जेठ को भी पूरी उम्मीद थी की वोह मुझे चोदेंगे इसलिए उन्होने पहले से ही ऑनलाइन लिंगरी मँगवा रखी थीं । पहले मैंने बेबीड़ोल सूट पहना और उपर से गाउन पहनकर नीचे आ गई और जेठ के कमरे मैं चली गई, दूसरा फुल बॉडी सूट भी अपने साथ ले आई । अमन अपने बेड पर बैठे थे सिर्फ बरमूडा पहनकर, जब तक मैं नहा रही थी लगता हैं उतनी देर मैं अमन भी नहा लिए थे । मैंने अमन से कहा की मैंने आप को पहले ही सिग्नल दे दिया था की बच्चे घूमने जा रहे हैं फिर इतनी जल्दी क्या थी चोदने की उस वक़्त बच्चे भी घर मैं थे और दरवाज़ा भी खुला था, मैं तो आप को सिर्फ गरम करना चाहती थी, तो अमन ने कहा की जब तुम नाश्ता ले कर आयीं थीं तो मैं एक ब्लू फिल्म देख रहा था, तो मैंने कहा की मैं समझ गई थी क्योंकि आपका लंड लोवर में उछाल मार रहा था, फिर अमन ने कहा की एक तो मैं ब्लू फिल्म देख रहा था उपर से तुमने झुक कर अपनी चूत और गांड के दीदार करा दिये तो मेरा हाल और बुरा हो गया जब तुम झुकीं तो तुम्हारी चूत का छेद थोड़ा खुल गया था और काली झांटों के बीच से ऐसा लग रहा था की तरबूज़ की लाल फांक हो । उसी वक़्त मैंने सोचा की तुम्हें अभी चोदूँगा चाहे कुछ भी हो जाए, जब तुम चली गईं तो मैंने कुछ समान फर्श पर डाल दिया और तुम्हें चाय के लिए आवाज़ दी और मैं जनता था की तुम सामान उठाने के लिए ज़रूर झुकोगी और उसी वक़्त मैं अपना लंड तुम्हारी झांटों वाली चूत मैं डाल दूँगा, और जब तुम्हारे चाय लाने की आहट हुई तो मैंने अपने लंड पर लुब्रीकेंट लगा कर लोअर मैं कर लिया ताकि जब मैं तुम्हारी चूत में अपना लंड डालूँ तो आसानी से चला जाए। मैंने कहा की जब मैं चाय ले कर अंदर आई तो मैं समझ गई थी की आपने यह सामान जानबूझ कर फैलाया है मेरी चूत के फिर से दीदार करना के लिए पर मुझे यह नहीं पता था की उसमे उसी वक़्त आपका साड़े छे इंच का गरम मूसल घुसने वाला है, खैर मुझे ऐसे अचानक चुदाई से बहुत मज़ा आया । फिर मैंने कहा की मैन गेट बंद कर दें तो उन्होने कहा की मैंने सब कर दिया है और यह कह कर मेरे हाथ पकड़ा और बेड पर खींच लिया और मेरे रसीले होंठों पर अपने होंठ रख कर चूसने लगे ऐसा होते ही मेरी चूत पनिया गई । अमन ने मेरे होंठों से अपने होंठ हटाये और कहा की बहुत दिन से तड़पा रही थीं आज मैं सारी कसर निकाल दूँगा तो मैंने कहा की सब्र का फल मीठा होता है मैं भी आप को खुश करने मैं कोई कसर नहीं छोड़ूँगी, आज जैसे आप का दिल चाहे मेरा बदन के साथ खेलो मैं रोकूंगी नहीं । अमन ने कहा की तुमको मुझसे चुदवाने का ख्याल कैसे आया तो मैंने कहा की मैं और जेठानी जी अक्सर एक दूसरे से अपनी सेक्स की बातें शेयर करते हैं, तो सोनिया आपकी चुदाई के बारे मैं बताती है के आप कैसे इस उम्र भी उसको बहुत चोदते हो तो मैंने सोचा था की क्यूँ न आपसे चुदवाऊँ घर के घर मैं, इसलिए मैंने आपको सिडियूस करना शुरू कर दिया था । मैंने आज सुबह 8 बजे से पहले किसी दूसरे लंड से नहीं चुदवाया था और कोई दूसरा लंड भी अभी तक अपनी आँखों लाइव नहीं देखा है, ब्लू फिल्मों मैं तो बहुत देखे हैं। आपने भी पीछे से चोदकर अपना लंड लोअर मैं डाल लिया था। बातें करते करते अमन ने मेरा गाउन उतार दिया और मुझे बेबीड़ोल सूट मैं देख कर उनका लंड उपर नीचे होने लगा । उन्होने कहा की मुझे तुम्हारी ब्रा का साइज़ पता था और यह भी पता था की एक दिन तुम मुझसे ज़रूर चुदोगी इसलिए मैंने पहले ही से यह सेक्सी लिंगरी ऑनलाइन मँगवा रखी थीं । मैंने मुस्कुराकर जवाब दिया की मेरा भी यही सोचना था तो अमन ने कहा की जब आग दोनों तरफ़ लगी हो तो एक जैसी सोच तो होगी ही । अभी तक मैंने अमन का लंड नहीं देखा था तो मैंने हाथ बड़ा कर बरमुडा के उपर से ही उसका लंड पकड़ लिया और धीरे धीरे हाथ फेरने लगी तो उनका लंड फनफना उठा । अभी तक अमन ने मेरी चिकनी चूत के दीदार नहीं किए थे और मुझे पूरा नंगा भी नहीं देखा था, वोह अभी मेरे दूध मसल रहे थे और मेरी गर्दन मैं किस कर रहे थे । मैंने अमन का लंड मसलते हुये उसका बरमुडा नीचे कर दिया तो अमन का लंड बाहर आ गया और मेरी आँखों के पहली बार अपने मियां के अलावा आज किसी दूसरे का लंड देखा था । मैंने अपने हाथ से उसको पकड़ लिया क्या मस्त कडक लंड था । ऐसा लगता था की अमन ने भी अभी अभी अपनी झांटें साफ की हैं क्योंकि उसके लंड और बाल्स सब चिकने थे । मैंने अमन की दोनों टांगें पकड़ कर बेड के नीचे करीं और मैं अपने घुटनों के उपर बैठ कर अमन का लंड को अपने गालों और होंठों पर रगड़ने लगी मुझे ऐसा करना बहुत अच्छा लग रहा था फिर मैं अमन के लंड के टोपे पर अपनी ज़बान फेरने लगी, अमन अपने हाथों से मेरे दूध मसल रहे थे । फिर मैंने अपना मुंह खोला और अमन के लंड का टोपा अपने मुंह मैं ले लिया और उसको चूसने लगी अमन को भी मज़ा आना लगा और उसने मेरा सिर पकड़ कर अपने लंड की तरफ़ दबाया और धीरे धीरे अपना पूरा लंड मेरे हलक़ तक डाल दिया मेरे गला चोक होने लगा तो उसने मेरा सिर छोड दिया मैंने अपने मुंह से अमन का लंड निकाल कर एक लंबी सांस ली । मैंने कहा की आपने तो मेरे दम ही घोंट दिया था मेरे हलक़ तक अपना लंड घुसा कर, मुझे अपना लंड आराम से चूसने दो और फिर मैं अमन का गर्म लंड अपने मुंह मैं लेकर लोलीपोप की तरह चूसने लगी । फिर अमन ने मुझको उठा कर बेड पर लिटाया और मेरे पेंटी साइड मैं करके मेरी चिकनी चूत के दर्शन किए अमन ने पहले मेरी झांटों वाली चूत देखी थी और अब बिलकुल क्लीन शेवड, अमन ने फ़ौरन ही अपना मुंह मेरी रस छोड़ती हुई चूत पर लगा दिया और उसका पूरा रस पी गया और चूत के छेद मैं अपनी ज़बान डाल कर ज़बान से चोदने लगा मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, उसने लिंगरी से मेरे दोनों दूध बाहर निकाले और उन्हें अपने हाथों से मसलने लगा । अचानक मैं चोंक गई क्योंकि अमन की ज़बान कब चूत से फिसल कर मेरी गांड के छेद पर आ गई थी और वोह मज़े से मेरी गांड का छेद चाट रहा था । मेरी गांड की चटाई करने के बाद उसने अपना मुंह हटाया तो मैंने कहा की लिंगरी के दोनों सेट बहुत ही अच्छे और ख़ूबसूरत हैं काफ़ी महंगे होंगे तो अमन ने कहा की इतने अच्छे बदन पर और इतनी चिकनी चूत पर सस्ती लिंगरी अच्छी और ख़ूबसूरत नहीं लगतीं। फिर अमन ने उठ कर अपने बेड की साइड टेबल खोली और उसमे से एक लोशन और लुब्रीकेंट की शीशी और 2 नकली लंड (डिल्डो) भी निकाले जो मैं पहली बार अपनी आँखों से देख रही थी, मैंने कहा की यह सब क्या है तो उन्होने कहा की यह पूरे दिन की मस्ती का सामान है मैं पूरा दिन तो तुम्हें अपने लंड से चोद नहीं सकता बीच बीच मैं इनका इस्तेमाल भी करूंगा। एक डिल्डो जो था वोह क़रीब 8 इंच लंबा होगा और साड़े तीन से चार इंच मोटा होगा बिलकुल असली लंड की तरह उसमें बाल्स भी थे जिसे कहीं भी ज़मीन पर, दीवार पे या टेबल पर फिक्स करके औरत अपनी चूत खुद चोद सकती थी वोह वाइब्रेट भी करता था और गोल गोल घूमता भी था, मैंने अमन से पूंछा की मेरी जेठानी सोनिया अपनी चूत मैं इतना बड़ा ले लेती है, मेरी चूत तो फट जाएगी तो अमन ने कहा की नहीं अभी तुम भी यह पूरा ले लोगी और तुम्हारी चूत भी नहीं फटेगी और तुमको भी बहुत मज़ा आएगा । और दूसरा डिल्डो भी असली लंड जैसा था आगे से 9 इंच लंबा और 2 इंच मोटा और कुछ उपर की तरफ़ मुड़ा हुआ था और पीछे की तरफ़ उसमें एक 5 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा अंडाकार डिल्डो और उसके थोड़ा पीछे एक 5 इंच लम्बा एनल बीड्स लगा था, जिसमे वाईब्रेटर भी लगा था । उस अंडाकार हिस्से को औरत अपनी चूत मैं और एनल बीड्स को अपनी गांड मैं फंसा कर किसी आदमी की गांड मार सकती थी और दूसरी औरत के साथ लेसबियन सेक्स भी कर सकती थी । उसमें लगे वाईब्रेटर की वजह से फँसाने वाली को भी बहुत मज़ा आता होगा । मैं समझ गयी की सोनिया इसी डिल्डो से अमन की गांड मारती होगी । मैं उनको अपने हाथों मैं उठाकर देखने लगी ।
मैं बेड पर तकिया लगा कर अधलेटी सी थी जिससे मेरी चिकनी चमेली और गांड का छेद सामने से दिख रहा था अमन ने लोशन की शीशी का ढक्कन खोल कर उसके नोजेल से मेरी गांड पर लुब्रेकेंट लगाया मैंने कहा यह क्या कर रहे हैं तो वोह बोले की डरो मत अभी गांड नहीं मारूँगा अभी मैं तुम्हारे गांड को लोशन लगा कर मुलायम कर रहा हूँ । और यह कह कर मेरी गांड पर लोशन लगा कर मसाज़ करने लगे मुझे बहुत मज़ा आ रहा था । अमन उठा और फ्रिज से हरशीस चाकलेट सिरप की बॉटल निकाली और उसमें से चाकलेट सिरप अपने पूरे लंड पर डाला और मुझसे कहा की अब मेरे लंड को हाथों से पकड़े बिना चूसो, मैंने अपना मुंह खोल कर अमन के लंड का सुपाड़ा अपने मुंह मैं लिया और धीरे धीरे अपना मुंह उसके लंड पर आगे सरकाते हुए पूरा चाकलेट लगा लंड अपने मुंह मैं ले लिया और उसपर लगी चाकलेट चाटने लगी उस चाकलेट के साथ अमन के लंड का नमकीन पानी भी मिक्स हो गया था तो मुझे चाकलेट के मीठे स्वाद के साथ लंड के पानी का नमकीन मज़ा भी आ रहा था । मैंने उसके लंड पर लगी पूरी चाकलेट साफ कर दी, मैंने जब अपना मुंह पीछे किया तो अमन ने फिर अपने लंड पर औरे चाकलेट सिरप दल दिया मैंने उसको पूरा छत कर साफ कर दिया, फिर अमन ने मुझ से कहा की लेट जाओ मैं लेट बेड पर लेट गई तो अमन ने चाकलेट सिरप मेरे दोनों बूब्स पर डाला और फिर मेरे पूरे बदन पर डाल दिया, सिरप मेरे पेट से बहता हुआ मेरे चूत तक आ गया, अमन ने मेरी चूत पर भी चाकलेट सिरप डाल दिया और बॉटल एक तरफ रख कर मेरी दोनों टांगों पर बेठ गए और मेरे उपर झुक कर मेरा एक बूब अपने मुंह मैं ले लिया और उसको चाटने लगे इस तरह उन्होने दूसरे बूब को भी चाटा, फिर उन्होने मेरे पेट कमर अपने मुंह से चाट कर साफ की उसके बाद उन्होने मेरी दोनों टांगें फ़ैला दीं, इतनी देर मैं चाकलेट सिरप मेरी चूत से बहता हुआ मेरे गांड के छेद तक पहुँच गया था, अब अमन ने मेरी जाँघों को चाटना शुरु किया तो मेरे सारे बदन में गुदगुदी होने लगी और मैं मस्ति मैं उछलने लगी, अमन ने मेरी दोनो जाँघों पर लगी हुयी सारी चाक्लेट को चाट कर साफ किया, फिर अमन ने मेरी फ़ेली हुई टांगों के बीच अपना सर डाल कर मेरी गांड के छेद पर लगी चाकलेट को चाटने लगा और मेरे मुंह से उहह आअहह मरर गईईई जैसे आवाज़ें निकलने लगीं और मेरी चूत से पानी बहकर गांड तक पहुँच गया और वो मेरी गांड चाटता रहा, मेरी गांड अच्छी तरह चाटने के बाद उसने अपना मुंह मेरी चूत पर रख दिया और अपना मुंह खोल कर मेरी चूत अपने मुंह मैं भर ली और चुस्की लेकर मेरी चूत का चाकलेट मिला पानी पीने लगा जैसे चाय या काफ़ी पी रहा हो, और उसने मेरी पूरी चूत चाट कर साफ़ कर दी । मैंने कहा अमन आज तक मैंने ऐसा एक्सपिरियन्स नहीं किया यह एक्सपिरियन्स मेरी ज़िंदगी का बहुत ही सेक्सी एक्सपिरियन्स है, मुझे बहुत मज़ा आया क्या आप सोनिया के साथ भी ऐसा ही करते हो तो अमन ने कहा की हाँ मैं ऐसे ही मज़े लेता हूँ और देता भी हूँ और भी कई तरह से मज़े करता हूँ और मज़े मैं तुम्हें भी बाद मैं कराऊंगा । मैंने कहा की तभी सोनिया इतनी ख़ुश रहती है । मैंने कहा की अब क्या करने का इरादा है तो अमन मेरी दोनों टांगें फ़ैला कर अपना लंड मेरी चूत पर रगड़ने लगा और रगड़ते रगड़ते अपने लंड का सुपाड़ा मेरी चिकनी चूत मैं डाल दिया और धीरे धीरे आगे पीछे करने लगा मैं समझ गई की वोह एक दम अपना पूरा लंड मेरी चूत मैं डालेंगे, मैंने अपने आप को उसके लिए तैयार कर लिया और जैसा मैंने सोचा था ठीक वैसा ही हुआ अमन एक जोरदार झटका मर कर अपना पूरा लंड मेरी चूत मैं पेल दिया मैं इसके लिए तैयार थी पर फिर भी मेरी हल्की चीख निकल गई आआआआआ ईईईईई तो अमन बोला की अब जितना चाहो आवाज़ करो पर इतनी तेज़ भी मत करना की पड़ोसियों के कानों मैं जाए । उसके बाद वोह मेरी चिकनी चूत मैं अपना लंड कस कस कर पेलने लगे और मेरी सिसकारियाँ निकलना शुरू हो गईं और मैं आह ओहह करने लगी । फिर अमन अपना लंड मेरी चूत से निकाल कर मुझे बेड से उठाया और मुझे कमरे मैं रखी टेबल के पास ले गए और मेरी एक टांग उठा कर टेबल पर रख दी जिससे मेरी चूत के छेद खुल गया और फिर मेरे सामने खड़े हो कर अपना लंड मेरी चूत मैं डाल दिया और मुझे चोदने लगे थोड़ी देर बाद वोह मेरे पीछे चले गए और पीछे से चूत मैं लंड डाल दिया और धक्के मरने लगे और पीछे से मेरे दूध मसलने लगे । यह सब मेरे लिए एक अलग तरह का तजुरबा था अमन मुझे इसी तरह खड़े खड़े ही चोदते रहे मुझे लगा की अब उनका माल निकलने वाला है तभी वोह रुक गए और थोड़ा रिलैक्स हो कर मुझे अपनी गोद मैं उठा लिया और अपने खड़े लंड पर बैठा लिया और मेरा दूध मुंह मैं लेकर मुझे अपनी गोदी मैं खड़े खड़े उछाल कर चोदने लगे इस तरह चुदाई से मेरी चूत से पानी की धार बह निकली और अमन की जांघों पर बहने लगी, कुछ देर बाद अमन ने मुझे बेड के किनारे पर लिटा दिया और मेरी गांड के नीचे एक तकिया लगा दिया, मैंने अमन से कहा की कंडोम तो पहन लो तो वोह बोला की मैं तुम्हें बिना कंडोम के ही चोदूँगा तुम फिक्र मत करो तुम प्रेग्नंट नहीं होगी मेरी पास ऐसे गोली है की तुम 5-6 लंडों से भी बिना कंडोम के चुदवा सकती हो फिर भी प्रेग्नंट नहीं होगी । उसके बाद अमन ने मेरी दोनों टांगें उठाकर अपने कंधे पर रखकर अपना लंड मेरी चूत मैं पेल दिया और ज़ोर ज़ोर से धक्के मरने लगा उसने इतनी तेज़ धक्के मारे की मैं अपने उपर कंट्रोल नहीं कर सकी और मेरी चूत से पानी निकल कर नीचे गिरने लगा मुझे लगा की अब अमन का माल भी निकालने वाला है तो मैंने अमन से कहा की अपने लंड का माल मेरे मुंह मैं उंधेल दो उसी वक़्त अमन अपना लंड मेरी चूत से निकाल कर मेरे मुंह के पास लाया और मेने अपना मुंह खोल दिया तभी अमन का लावा भी फूट पड़ा और उसके लंड से गाढ़ा गाढ़ा माल मेरे मुंह मैं गिरने लगा और अपना लंड मेरे मुंह मैं डाल दिया मैंने उसका पूरा लंड चूस लिया और उसके लावे की आख़री बूंद तक पी गई । जिस वक़्त अमन ने मेरी चूत से अपना लंड खेंच कर बाहर निकाला था तो मेरी चूत से एक तेज़ धार निकल कर अमन के उपर गई और वोह उपर से नीचे तक गीला हो गया । मैं ऐसे ही चुदाई चाहती थी इस चुदाई के बाद मैं पस्त हो कर बेड पर ही लेट गई और अमन भी मेरे पास लेट कर मेरी चूंचियों से खेलने लगे। फिर अमन ने कहा की तुमने अपनी पूरी धार मेरे उपर छोड़ दी और तुम्हारा बदन भी चाकलेट से चिपचिपा हो रहा है चलो आज साथ नहाकर आते हैं तो मैंने कहा की ठीक है । हम दोनों बाथरूम मैं गए और एक दूसरे को मसल मसल कर नहलाया, नहाते वक़्त अमन मेरी गांड से खेलने लगा उसने पानी मैं भीगी मेरी गांड पर थोड़ा साबुन लगा कर अपनी उंगली मेरी गांड मैं डाल दी और अंदर बाहर करने लगा मुझे बहुत मज़ा आ रहा था फिर अमन ने अपनी एक और उंगली मेरी गांड में डाल दी और ज़ोर ज़ोर से दोनों उंगलिया मेरी गांड मैं घूमाने लगा और अंदर बाहर करने लगा, मैंने कहा की यह क्या कर रहे हो तो उसने कहा की अपने लंड के लिए तुम्हारी गांड तैयार कर रहा हूँ, अब उसकी दोनों उँगलियाँ पूरी मेरी गांड मैं घुस रही थीं । 5 मिनट तक अपनी उँगलियों से मेरी गांड मरने के बाद उसने अपनी उँगलियों मेरी गांड से निकाल ली । फिर मैंने कहा की अब मेरी बारी है तो अमन ने कहा की किस चीज़ की, मैंने कहा की आपकी गांड को डिल्डो के लिए तैयार करने की जो में पहनकर आपकी गांड मैं डालूंगी, अमन हैरानी से मेरे मुंह देखने लगे तो मैंने शरारत से मुसकुराते हुये कहा की मुझे सब पता है की सोनिया कभी कभी उस डिल्डो से आपकी गांड मारती है, आज मैं भी मारकर देखूँगी कैसा लगता है तो अमन कहा की ठीक है तुम भी मेरी गांड मार कर नया एक्सपिरियन्स ले लेना । तो मैंने अमन की गांड पे साबुन लगाया और अपनी एक उंगली उसकी गांड मैं डाल कर अंदर बाहर करने लगी जब उंगली आसानी से अंदर बाहर होने लगी तो मैंने दूसरी उंगली भी अमन की गांड मैं डाल दी और फिर जिस तरह अमन मेरी गांड में कर रहा था मैंने भी वैसे ही उसकी गांड मैं उंगली चलना शुरू कर दी । फिर हम नहाकर कमरे मैं आ गए और बातें करने लगे । मैंने अमन से कहा की इन डिल्डो का इस्तेमाल कब करोगे तो उसने कहा की अभी तो साड़े बारह ही बजे हैं अभी तो रात को 9 बजे तक मस्ती करने का टाइम है, मैं लंच और डिनर होटल से ले आऊँगा तो खाना पकाने का टाइम भी बच जाएगा और हम हर तरह की मस्ती करते रहेंगे, तो मैंने कहा की हर तरह की मस्ती मतलब तो अमन बोला की अभी तुम्हारी गांड भी मारनी है और तुम्हें डिल्डो से चुदने का एक नया मज़ा देना है। मैं बोली की मुझे भी तो आपकी गांड मारकर नया मज़ा लेना है और उस वक़्त मेरी चूत और गांड में फंसा हुआ होगा तो मुझे तो ट्रिपल मज़ा आएगा । अमन ने कहा की अभी मेरा लंड खड़ा होने मैं थोड़ा वक़्त लगेगा जब तक तुम मेरी गांड मार लो, मैंने कहा ठीक है तो अमन ने कहा की मैं उसकी गांड को मारने के लिए तैयार करूँ, मैंने कहा कैसे तो उसने कहा की पहले मेरी गांड चाटो फिर उंगली पर लुब्रीकेंट लगाकर अंदर बाहर करो फिर मैं तुम्हारी गांड आर चूत मैं डिल्डो फंसा दूँगा और तुम उसपे लुब्रीकेंट लगा कर धीरे धीरे मेरी गांड मैं डालना जब डिल्डो आराम से अंदर बाहर होने लगे तो फिर अपनी स्पीड बढ़ा कर धक्के मारना । मैंने अमन कहा कि आप को गांड मरवाने का शौक़ कैसे लगा तो उसने कहा की मैंने कई ब्लू फिल्म में देखा है और तुमने भी देखा है कि औरत डिलडॊ पहनकर आदमी की गांड मारती है तो मेंने सोचा की मैं भी ऐसे गांड मरवा कर देखों और मैंने ऑनलाइन यह डिलडॊ मँगवा लिया और सोनिया से कभी कभी अपनी गांड मरवाता हूँ । मैंने कहां की तो आप क़ो गांड मरवाने में मज़ा आने लगा तो अमन हँसने लगे और अपने दोनों हाथ बेड पर रख कर झुक गए और मैं उनके पीछे बैठ गई और उनकी गांड चाटने लगी और अपने हाथ से उनका लंड पकड़ कर सहलाने लगी, यह भी मेरे लिए नया तजुरबा था । फिर मैंने लुब्रीकेंट उठाया औए उसका नोज़ल अमन की गांड मैं डालकर अंदर लुब्रीकेंट डाला और सीधे दो उंगली उसकी गांड मैं डाली और अंदर बाहर करने लगी थोड़ी देर बाद मैंने अपनी तीसरी उंगली भी अमन की गांड मैं डाल दी और उसकी गांड अपनी उँगलियों से मारने लगी फिर अमन ने कहा की अब तुम डिल्डो पहन लो और उसने थोड़ा से लुब्रीकेंट डिल्डो के अंडाकार हिस्से और ऐनल बीड्स पर लगाया और धीरे धीरे मेरी गांड और चूत मैं बैठा दिया और उसका वाइब्रेटर खोल दिया, मेरे मुंह से सिसकारियाँ निकालने लगी, ओह माइ गॉड इसमें इतना मज़ा है । अमन ने कहा की अब मेरी गांड मैं और लुब्रीकेंट लगाओ और इस डिल्डो पर भी, मैंने ऐसा ही किया और अमन के पीछे आकार खड़ी हो गई और डिल्डो का टोपा उसकी गांड के छेद पर रख कर रगढ़ने लगी और धीरे धीरे ज़ोर लगा कर उसकी छेद मैं घुसेड़ने लगी, धीरे धीरे डिल्डो उसकी गांड मैं जाने लगा और अमन के मुंह से सिसकारी की आवाज़ आने लगी, थोड़ी देर में पूरा 9 इंच का डिल्डो अमन की गांड मैं था । मैंने आगे पीछे होना शुरू किया तो मुझे ऐसा लगा की यह मेरा असली लंड है, मुझे बहुत मज़ा आने लगा क्योंकि वाइब्रेशन से मेरी चूत और गांड की खुजली भी मिट रही थी और मेरे चूत से पानी टपकने लगा जो रुकने का नाम ही नहीं ले रहा था । अमन ने कहा की अब अपनी स्पीड बढ़ा दो तो मैंने धक्के मरने की अपनी स्पीड बढ़ा दी और अपने एक हाथ से उसका लंड पकड़ कर आगे पीछे करने लगी, क़रीब 10 मिनट तक मैं अमन की गांड मारती रही। मेरी चूत से पानी की धार बहने लगी तो अमन ने कहा की अब निकाल लो मैंने उसकी गांड से डिल्डो निकाला तो अमन की गांड का मुंह खुल गया और अंदर का लाल लाल दिख रहा था । फिर मैंने अपनी चूत और गांड से डिल्डो का पिछला हिस्सा निकाला तो मेरी चूत से ढ़ेर सारा पानी नीचे गिरा । मैंने टॉवल से अपनी चूत और गांड साफ की और अमन की गांड भी साफ़ की अमन बोला की मैं लंच लेकर आता हूँ लंच करने के बाद आगे के प्रोग्राम बनाते हैं, मैंने हाँ मैं सर हिला दिया। अमन खाना लेने चले गए, मैंने नीचे जाकर दरवाजा बंद किया और कमरे मे गिरे मेरी चूत के पानी को साफ़ कर के बेड पर लेट गई और मेरी आँख लग गई । क़रीब एक घंटे बाद मोबाइल की घंटी से मेरी आँख खुली तो देखा अमन का कॉल है मैंने उठाया तो उसने कहा की दरवाजा खोलो खाना ले आया हूँ । हम दोनों ने साथ बैठ कर खाना खाया और चाय पी । फिर अमन ने कहा की उसके लिए एक ग्लास दूध गरम करके ले आओं, मैं दूध गरम करके ले आई तो अमन एक छोटी शीशी से दो गोली निकाल कर खाईं मैंने कहा की किस चीज़ की हैं तो उसने कहा की यह एक यूनानी (हकीमी) गोली है क्योंकि तुम्हारी चूत मेरा दो बार बार माल निकाल चुकी है अब इस उम्र मैं अगर तीसरी बार लंड खड़ा करना है तो इसकी ज़रूरत पड़ेगी, इससे डेढ़ दो घंटे बाद लंड खड़ा होगा और काफ़ी देर तक खड़ा रहेगा फिर मैं तुम्हारी गांड और चूत के मज़े लूँगा, क्योंकि तुम्हें तो कुछ खड़ा करने की ज़रूरत नहीं है तब तक तुम चाहो तो इस दूसरे डिल्डो का मज़ा ले सकती हो तो मैंने कहा की ठीक है थोड़ी देर बाद लूँगी । अमन का लंड अभी मुरझाया हुआ पड़ा था जैसे कोई जान ही न हो तो मैंने कहा की अब यह उठेगा भी की नहीं तो अमन ने कहा की अभी 2 घंटे इंतज़ार करो फिर कहोगी की यह बेठेगा की नहीं और हम दोनों हंसने लगे। हम कुछ देर सेक्स की और जो ब्लू फिल्म्स हमने एक साथ देखीं थी अपने अपने कमरे मैं उसपर बातें करते रहे । अमन ने कहा की अब मैं तुम्हारा मसाज करूंगा और तुम्हें टीवी पर दिखाऊँगा, मैंने कहा कैसे । तब अमन ने अपना मोबाइल अपने 50 इंच के स्मार्ट टीवी से सिंकरोनाइज़ किया और अपने मोबाइल का कैमरा ऑन किया और टीवी से कनैक्ट कर दिया अब जो मोबाइल मैं दिख रहा था वो टीवी पर भी दिख रहा था । अमन ने कैमरा मेरी तरफ़ कर दिया तो मैं नंग धड़ंग टीवी पर नज़र आ रही थी । अमन ने कहा की मैं आज तुम्हें यह भी दिखाऊँगा की तुम्हारी चूत लंड खाते हुये कैसी लगती है । यह सुनकर मैं रोमांचित हो गई, फिर अमन ने फर्श पर एक चादर बिछाकर मुझे उसपर नंगा लिटाया और बोटल से लोशन निकाल कर मेरे बदन पर कई जगह डाला और फिर अपने हाथों से मेरे बदन की मालिश करने लगा मेरे पीठ पर, नितंबों पर फिर मेरी जांघों पर हाथ फेरने लगा मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, लोशन से उसकी उँगलियाँ चिकनी हो गईं थीं अमन ने मेरी जांघों की मसाज करते हुए दो उंगली मेरी चूत मैं और एक गांड मैं डाल दी, मैं खामोश पड़ी रही उसका यह सब करना मुझे बहुत अच्छा लग रहा था । फिर मुझे उसने सीधा लिटा दिया और मेरे दोनों दूध पर लोशन लगाया और उनको नीचे से उपर की तरफ़ मालिश करने लगा, अपने मियां के अलावा किसी दूसरे आदमी से मसाज करवाने का पहला मौका था और मैं इसका भरपूर मज़ा ले रही थी । मालिश करवाते हुए मैंने नोटिस किया की अब अमन के लंड मैं कुछ हलचल हो रही है । मसाज करवाते हुए मेरी चूत गीली होने लगी तो अमन ने कहा की अब तुम डिल्डो अपनी चूत मैं ले लो तो मैंने कहा की ठीक है । मैं उठी और अमन के लाया हुआ दूसरा लिंगरी सेट फुल बॉडी सूट पहन लिया जो नीचे से खुला हुआ था जिससे मेरी चिकनी चूत और गांड बाहर थी और दोनों बूब्स की जगह भी खुली था जिससे मेरे दोनों बूब्स भी बाहर थे । अमन ने एक स्टूल पर डिल्डो को फिक्स किया और उसका वाइब्रेटर खोल दिया तो वो गोल गोल हिलने लगा अमन ने मुझे उस पर बैठने को कहा, मैंने अपनी दोनों टांगें खोल कर स्टूल के उपर आ गई और धीरे धीरे उस पर बैठने लगी और अमन ने अपना मोबाइल मेरे चूत के नीचे कर दिया तो मेरी खुली चूत टीवी पर नज़र आ रही थी जैसे ब्लू फिल्मों मैं दिखता है । मैं धीरे धीरे उस हिलते हुए डिल्डो पर बैठने लगी और सामने टीवी पर देखने लगी की वो कैसे मेरी चूत मैं बैठता है वो पूरा मेरी चूत मैं बैठ गया और मैं उपर नीचे होने लगी, डिल्डो मेरी चूत मैं घूम रहा था और मैं उसपर उठठक बैठक लगा रही थी तो मुझे ऐसा लग रहा था की मैं सातवें आसमान की सैर कर रही हूँ और फिर अपनी चुदाई का यह नज़ारे मैं टीवी पर देख रही थी तो ब्लू फिल्म देखते हुए चुदवाने का मज़ा आ रहा था और मेरी गांड के छेद भी मेरे उठने बैठने पर खुल और बंद हो रहा था, बहुत ही सेक्सी नज़ारा था। मैंने देखा की अमन का लंड अब खड़ा होने लगा था । मैं उठठक बैठक लगा रही थी तभी अमन ने अपनी उंगली पर लुब्रिकेंट लगाया और नीचे से मेरी गांड मैं उंगली डाल दी यह सब मुझे टीवी पर साफ नज़र आ रहा था । कुछ देर बाद अमन ने कहा की अब पोज़िशन चेंज करते हैं, उसने डिल्डो को बेड के ऊपरी सिरे पर लगाया और उसके पीछे खुद बैठ गया और मुझसे कहा की अब घोड़ी बन कर पीछे सरको, मैं घोड़ी बन कर पीछे सरकी और अपनी चूत मैं डिल्डो ले लिया और मैं आगे पीछे होने लगी, मैं पूरा का पूरा डिल्डो अपनी चूत में लेती और उसके टोपे तक बाहर निकाल कर फिर पूरा अंदर ले लेती, यह नज़ारा टीवी पर बहुत अच्छा लग रहा था । इस पोज़ीशन मेरी गांड उपर की तरफ़ निकल आई थी अमन मेरे पीछे बैठ कर सारा नज़ारा देख रहे थे और मुझे टीवी पर दिखा रहे थे।
अमन ने लुब्रिकेंट की नोजेल मेरी गांड के छेद से लगाया और उसमें लुब्रिकेंट डालकर अपनी दो उँगलियाँ चलाने लगा, अमन बोला की आज मैं तुम्हें दो लंडों से एक साथ चुदने का मज़ा दूँगा यह सुन कर मेरी गांड फट गई, मैंने नाराज़ होते हुए कहा की क्या किसी और को भी बुलाया है तो अमन हंसने लगा कहा की एक डिल्डो तो अभी तुम्हारी चूत मैं फंसा है और अब मेरा लंड तुम्हारी गांड की सवारी करेगा, मैंने कहा की नहीं ऐसा मत करो वैसे ही मेरी चूत मैं इतना मोटा फंसा पड़ा है उपर से तुम अपना इतना मोटा मेरी गांड मैं डाल कर फाड़ दोगे, ऐसा ब्लू फिल्मों मैं होता होगा, मैं दो लंड एक साथ नहीं ले सकती । तो अमन ने कहा की थोड़ी तकलीफ़ तो होगी मैं आराम से डालूँगा अगर तुम्हें ज़्यादा तकलीफ़ हो तो मना कर देना मैं निकाल लूँगा । मैंने कहा ठीक है देखती हूँ । इसी बीच अमन ने अपने मोबाइल को सेलफ़ी इस्टिक मैं लगाकर इस एंगल से सेट कर दिया की मेरी पूरी चुदाई और गांड मराई टीवी पर नज़र आए । अब अमन मेरी गांड मैं दो उँगलियाँ डाल कर गोल गोल घुमाने लगा ताकि मेरी गांड थोड़ी ढीली हो जाए । अमन ने मेरी गांड मैं और लुब्रिकेंट लगाया और अपने लंड पर भी मला, मेरी गांड का छेद उसके लंड के सामने कुछ खुला हुया था अमन थोड़ा से उठा और अपने लंड का सुपाड़ा मेरी गांड के छेद पर रगड़ने लगा मुझे बहुत अच्छा लगा अमन अपना लंड मेरे छेद पर रगड़ते हुए गांड मैं डालने लगा तो उसका मोटा सुपाड़ा मेरी गांड के छेद मैं फंस गया, मुझे दर्द हुआ और मेरी हल्की चीख़ निकाल गई मैंने कहा की अपना लंड मेरी गांड से निकाल लो तो अमन वहीं रुक गया मगर अपने लंड का सुपाड़ा बाहर नहीं निकाला और मुझसे कहा की थोड़ी हिम्मत करो आराम से चला जाएगा । अमन ने मेरी गांड पर और लुब्रिकेंट डाला और अपने लंड पर भी और लगाया । थोड़ी देर बाद मुझे कुछ आराम हुया तो मैंने कहा की थोड़ा सा और अंदर कर दो अमन ने थोड़ा सा लंड और मेरी गांड मैं डाल दिया और मुझसे कहा की मैं धीरे धीरे आगे पीछे हिलूँ, एक तो नीचे मेरी चूत मैं डिल्डो फंसा हुया था उपर से गांड मैं लंड, मुझे तकलीफ़ तो हो रही थी पर यह सोचकर की अब यह सब फिर कब मिलेगा मैं तकलीफ़ बर्दाश्त कर रही थी । यह सारा नज़ारा मुझे टीवी पर लाइव दिख रहा था तो दुगना मज़ा आ रहा था । अमन ने अपने हाथ नीचे ला कर मेरे दोनों बूबे पकड़ लिए ओर उन्हे मसलने लगा मुझे बहुत मज़ा आ रहा था इसी मज़े मे मैं भूल गई की मेरी गांड मैं भी लंड फंसा हुया है । मैं धीरे धीरे आगे पीछे हो रही थी तो पूरा डिल्डो मेरी चूत की गहराई तक नहीं जा रहा था तो मैने सोचा की पूरा डिल्डो अपनी चूत के अंदर ले लूँ और मैंने ज़ोर से अपनी चूत को पीछे डिल्डो की तरफ़ धक्का मारा और मेरे मुंह से एक जोरदार चीख़ निकाल गई आहाहाहाहाहाहाहाहाहाहा और में ज़रा भी हिलने के लायक नहीं थी, जैसे ही मेरी मुंह से चीख़ निकली अमन ने मेरे बूब्स से अपना एक हाथ हटा कर मेरे मुंह पर रख दिया ताकि मेरी आवाज़ बाहर न जाए । मुझे ऐसा लगा की मेरी गांड मैं कोई मोटा गरम राड घुस गई हो और मेरी गांड फट गई है। इसमे अमन की गलती नहीं थी वो तो आराम से गांड मर रहा था, गलती मेरी थी की मज़े मज़े मैं भूल गई थी की पीछे अमन का लंड फंसा हुया है, अमन ने मुझसे कहा की तुम मुझसे तो कह रहीं थी की धीरे धीरे डालो और खुद एक ही झटके मैं पूरा अपनी गांड मैं बिठा लिया तो मैं बोली की यह मेरी मस्ती की वजह से हो गया इस वक़्त मैं ही जान रही हूँ की मेरी गांड की क्या हालत है, मेरी गांड ज़ोर से दर्द कर रही है मुझे तो ऐसा लग रहा है कई दिन तक मैं लेट्रिन भी नहीं कर सकती हूँ । अमन ने कहा की अच्छा टीवी पर देखो, मैंने टीवी पर देखा तो मुझे पीछे कुछ भी नज़र नहीं आया अमन का पूरा का पूरा साड़े छे इंच लंबा और तीन इंच मोटा लंड मेरी गांड मैं फंसा हुआ था, अमन के लंड और मेरी गांड के बीच बाल बराबर भी जगह नहीं थी, अमन ने कहा की थोड़ी देर ऐसे ही रहो दर्द धीरे धीरे कम हो जाएगा, अमन ने कहा की उसने जो गोलियां खाईं है उसकी वज़ह से अभी उसका लंड ढीला नहीं होगा, यह सुन कर मेरी तो और फट गई की यह अभी और कितनी देर मेरी गांड मारेगा । थोड़ी देर बाद मुझे लगा की अब दर्द कम हो गया है तो अमन ने कहा की अब धीरे धीरे आगे सरको लेकिन लंड और डिल्डो को गांड और चूत से पूरा बाहर मत निकालना मैं आगे सरकी इतनी तकलीफ़ नहीं हुयी, शायद इतनी देर से लंड गांड मैं फंसा पड़ा था तो उसके मसल्स खुल गए होंगे । अमन ने अपने लंड पर और लुब्रिकेंट लगाया और मुझसे कहा की अब टीवी पर देखते हुए धीरे धीरे पीछे खिसको, मैं धीरे धीरे पीछे खिसकने लगी और अमन का लंड मेरी गांड मैं घुसता चला गया और यह सारा नज़ारा मैं टीवी पर देख रही थी । मैं ऐसे ही आगे पीछे होती रही और मेरी टांगें दुखने लगी थीं, अमन ने कहा की अब तुम पूरा डिल्डो अपनी चूत मैं ले लो और मैं तुम्हारी गांड मैं धक्के मारूँगा और अमन ने धीरे धीरे धक्के मारना शुरू कर दिये । गांड तो मैंने पहले भी अपने मियां नौमान से कई बार मरवा चुकी थी पर इस तरीक़े से नहीं (एक लंड चूत में और एक गांड में) और फिर अमन का लंड भी नौमान के लंड से बड़ा और मोटा था । अब मुझे भी मज़ा आने लगा था तो मैंने अमन से कहा की अपनी स्पीड बढ़ा दें और अमन ने अपनी धक्कों की स्पीड बढ़ा दी । इस पोज़िशन मैं बहुत देर हो गई थी तो मैंने कहा की अब पोज़िशन चेंज करो । अमन ने अपना लंड मेरी गांड से निकाला और मैंने आगे सरक कर डिल्डो अपनी चूत से बाहर निकाला, मेरी चूत से पानी बह रहा था । इतना पानी तो आज तक मेरी चूत से कभी नहीं निकला होगा । अब अमन ने बिस्तर पर मुझे सीधा लिटा दिया और मेरी गांड ने नीचे ऊंचा तकिया लगा कर मेरी गांड ऊंची कर दी मेरी गांड का छेद खुला हुआ था और अंदर तक सुर्ख नज़र आ रहा था (यह सब मुझे टीवी पर दिख रहा था) अब अमन ने नीचे खड़े हो कर अपना लंड मेरी गांड के खुले छेद मैं डाल दिया और धक्के लगाने लगा अब मुझे भी गांड मरवाने मैं बहुत मज़ा आ रहा था मैंने अमन से कहा की और ज़ोर से तो अमन ने अपने लंड की स्पीड बढ़ा दी और करीब पाँच मिनट तक ऐसे ही मेरी गांड चोदता रहा फिर उसकी मनी मेरी गांड मैं निकाल गई । अमन ने अपना लंड मेरी गांड से निकाला तो उसमें से थोड़ी सी मनी बाहर गिरी तो मैंने कहा की बस इतनी सी ही तो अमन ने कहा ही बाक़ी मनी तुम्हारी गांड में है और यह तीसरा राउंड था मनी निकलने का अब इतनी ही निकलेगी पर अभी मेरा लंड बैठेगा नहीं अभी तुम्हारी चूत और चोदेगा भले ही मनी नहीं निकले। अमन ने टॉवल से अपना लंड साफ किया और मेरी चूत और गांड साफ की फिर हम आराम करने लगे । अमन का लंड अभी भी नहीं बैठा था । मुझे नहीं पता था की अमन ने यह सारी चीज़ टीवी पर दिखाने के साथ-साथ अपने मोबाइल मैं भी रिकॉर्ड कर ली है। अमन ने कहा की अब आराम से बैठ कर अपनी चुदाई को टीवी पर देखो और उसने टीवी पर कनैक्ट कर दिया और हम टीवी पर पिछले एक घंटे मैं क्या क्या किया देखने लगे और अपनी चुदाई की फिल्म देखते देखते मेरी चूत फिर गीली हो गई अमन का लंड भी खड़ा था मैंने अमन को वही बेड पर पटक दिया और उसके लंड पर अपनी चूत रख कर नीचे बैठती चली गई और मैंने उसका पूरा लंड अपनी चूत मैं समा लिया और उपर नीचे उछलते हुए अमन के लंड की सवारी करने लगी । अमन ने मुझे अपने उपर से उतार कर घोड़ी बना दिया और पीछे से मेरी चूत मैं अपना लंड पेल कर ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने लगा उसका लंड बैठने का नाम ही नहीं ले रहा था । अमन ने मुझे और दस मिनट तक चोदा फिर मेरी चूत मैं ही झड़ गया और अपना लौडा मेरी चूत से निकाला तो मेरी चूत से अमन की मनी मिला पानी गिरा । मैंने अमन का लंड चाट कर साफ किया और अमन ने मेरी चूत चाट कर साफ की । दिनभर चुदाई करते हुए हम लोग बहुत थक गए थे अब और चुदाई करने और गांड मराने की ताकत नहीं थी । हम बिस्तर पर लेट गए थोड़ा रिलैक्स होने के बाद मैंने कहा की मैं चाय बना कर लाती हूँ और मैं किचेन मैं चली गई इतनी देर मैं अमन ने दोनों डिल्डो को ड़ेटोल से साफ किया और उन्हे अपनी साइड टेबल मैं रखा, अपने मोबाइल से हमारी चुदाई की फिल्म डिलीट की और अपना कमरा साफ कर दिया जैसे वहाँ कुछ हुआ ही नहीं था । मैं अभी तक फुल बॉडी सूट मैं ही थी । मैं चाय बनाकर अमन के पास आ गयी और हम चाय पीने लगे । मैं कुर्सी पर बैठी हुई थी और मेरी दोनों टांगें उपर कुर्सी पर थीं जिससे मेरी चूत और गांड दिख रही थी अमन ने कहा की तुम्हारी दोनों चीज़ें सूज रहीं है लेकिन गांड ज़ियादा सूज रही है । तुम ऐसा करना की अभी बच्चों को आने मैं देर है और मैं जब डिनर लेने जाऊंगा तो तुम अपनी चूत और गांड की बर्फ से सिकाई कर लेना ताकि सूजन कम हो जाए, चूत की सूजन तो जल्दी ख़त्म हो जाएगी मगर गांड के आसपास के जो दाने फूल गए है उन्हें और गांड के दर्द की ठीक होने मैं ज़रूर 3-4 दिन लगेंगे । कल रात को तुम्हारे मियां आएंगे और अगर तुम्हें चोदें तो अंधेरा करके चुदवाना और अगर गांड पर हाथ फेरे और कहें की सूज क्यूँ रही है तो कह देना की तुम्हें कान्स्टीपेशन (क़ब्ज़) हो गया था जिसके वजह से लेट्रिन करने मैं तकलीफ हो रही थी इसलिए सूज गई है । फिर अमन डिनर लेने होटल चले गए और मैं अपने दोनों छेदों की सिकाई करने लगी करीब 1 घंटे बाद अमन खाना लेकर आए और हमे खाना खाया । फिर हम बातें करने लगे तो मैंने कहा की मुझे लेस्बियन सेक्स का भी मज़ा लेना है तो अमन ने कहा की सोनिया से बात करके उसके साथ कर लो, मैंने कहा की कैसे, तब अमन ने कहा की तुम सोनिया से लेस्बियन सेक्स की बातें करना की जब दो औरतें आपस मैं सेक्स करती होंगी और अपनी चूत से चूत रगड़ती होंगी तू उन्हें कितना मज़ा आता होगा, मैं भी उसको लेस्बियन सेक्स करने की लिए उकसाऊंगा की कभी किसी औरत के साथ करके देखो कितना मज़ा आएगा अगर सोनिया राज़ी हो गयी तो उसके साथ लेस्बियन कर लेना और मौका देख कर मैं भी आ जाऊंगा और फिर तीनों मज़ा करेंगे । लेकिन सोनिया को यह नहीं पता चलना चाहिए की तुम मुझसे चुदवा चुकी हो और यह मेरा प्लान है तो मैंने हाँ कर दिया । फिर अमन ने मुझे एक गोली दी और कहा की इसको डिनर के बाद खा लेना तो तुम प्रेग्नेंट नहीं होगी और तुहारी माहवारी टाइम से आएगी या 1-2 दिन आगे पीछे हो कर आएगी । अब 3 सम करने का मौका हमें जब भी मिलेगा तो अमन उसकी कहानी भी आप को बताएँगे, तो आप लोग इसका इंतज़ार करें !


Read More Related Stories
Thread:Views:
  मेने अपनी वाइफ को अपने दोस्त से चुदवाया 884
  भाभी ने छोटी बहन को चुदवाया 6,931
  भाभी की गांड 3,343
  प्रगति की कुंवारी गांड 13,199
  [Hardcore] बेटी ने माँ को चुदवाया 18,226
  बीवी ने सहेली को चुदवाया 18,751
  बेटी ने माँ को चुदवाया 50,471
  मामी की गदराई गांड की चुदाई 81,450
  गांड फाडू 16,768
  नदी में भीगती इंडियन गांड 11,614
 
Return to Top indiansexstories