कमसिन कन्या
....आप सोचें की एक कुंवारी कमसिन कन्या जिसकी उम्र नादान है और जो अभी खिलती हुई कली ही है और एक लड़का जिसने अभी उम्र के सत्रवेंह साल में ही प्रवेश किया है, सेक्स के बारे में कितने उत्सुक और अधीर होंगे, यह मैंने बाद में जाना की कोमल भी सेक्स की रंगीन दुनिया के लिए सोचती थी और कमसिन कन्याएँ जितना सोचती हैं और अधरी होती हैं उतना और किसी उम्र में शायद ही होती होंगी और इस आनंद को प्राप्त करने के लिए नए प्रयोग करने से भी संकोच नहीं करती... कोमल बाथरूम में गयी और सलवार उतार कर अपने योनी स्थान को धोने लगी, बाथ का दरवाज़ा आधा खुला छोड़ दिया था, शायद उसने सोचा नहीं इतनी सुबह कोई होगा और मैं पीछे से देख रहा होऊँगा. अद्भुत दृश्य...

बनाने वाले ने गज़ब के नितम्ब और जांघें दी थी, गोल, भरे भरे मांसल,गोरे, बिलकुल जैसे सांचे में ढले हुए, मै उसकी योनी नहीं देख पा रहा था, पानी की धार योनी को साफ़ करती हुई जांघों के बीच से पैरों पर होती हुए नीचे गिर रही थी, उसकी कुर्ती गीली हो गयी थी, मैं दरवाजे के पीछे छुप कर देख ही रहा था की वो अचानक ही मुड़ी और मुझे देख स्तब्ध हो गयी, यही हाल मेरा था, उसने सलवार नहीं पहनी थी, सामने से अर्ध नग्न, योनी जांघें और पैर पानी से गीले, योनी पर के हलके सुनहरे बाल योनी से चिपके हुए, स्तन उन्नत और कुर्ती को फाड़ बाहर आने को तैयार, स्तन का ऊपरी हिस्सा गोरा चिकना आकर्षित कर रहा था, लेकिन हम दोनों को काटो तो खून नहीं ऐसी हालत थी..... कोमल ने हड़बड़ा कर अपनी सलवार खूंटी से खींची और बिना पहने ही अपने कमरे की ओर भागी, मैं देखता रह गया, एक जवान नंगी कन्या के नितंबों को, हिलते और मचलते हुए . मेरा मन बेचैन, रहा नहीं गया, मैं कमरे के तरफ आया, कोमल ने सलवार पेहेन ली थी, बाहर निकलते हुए बोली यह तुमने किया ?
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
मैंने अनजान बनते हुए पुछा, क्या किया ?

"ज्यादा चालाक मत बनो तुमने मुझे चोकलेट क्रीम से पूरी तरह लस दिया, और इस तरह ?"

"तो किस तरह , तुम ने भी रात को क्या किया"

"पर मैंने तुम्हारे मुहं में लगाया और तुमने......." और बोलते बोलत वो रुक गयी

"और मैंने क्या, तुम्हें जो अच्छा लगा वहां तुमने लगाया, मुझे जो अच्छा लगा वहां मैंने लगाया "

कोमल की तो आवाज ही बंद होगई सुनकर, "तुम गंदे हो " उसने कहा,

"तुमने कपडे ख़राब कर दिए मेरे, मेरी सलवार पर दाग लग गए, कैसे छूटेंगे "

" और मेरे पैंट पर जो दाग लगे वो क्या" मैंने कहा,

"झूठ, मैंने वहां नहीं लगाया " कोमल बोल पड़ी
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
"तुमने लगाया, यह देख" मैंने अपना अन्दर्वेअर लाकर दिखाया जिसमें रात वीर्य पोंछा था, सूख कर दाग हो गए थे,

"यह चोकलेट थोड़ी है, यह क्या है, मैंने ऐसा कुछ नहीं किया " और कोमल मेरे अन्दर्वेअर को देख शर्मा गयी, उसे समझ में नहीं आ रहा था की मैं क्या बोल रहा हूँ,

" यह तुम्हारी वजह से है, तुम्हारे कारण यह निकला" मैंने कहा,

"निकला ?" उसने अनजाने में पुछा,

" मेरा रस "

" तुम्हारा रस मतलब ?" वो वाकई अनजान थी,

"तुम गुस्सा नहीं हो तो मैं बताऊँगा तुमने क्या किया मेरे साथ " मैं अब उससे कुछ खुल गया था और मुझे अपने पर काबू नहीं था, मैं चाहता था की बात को उस ओर मोड़ कर उसकी प्रतिक्रिया देंखूं,

"बोलो" उसने कहा

"गुस्सा नहीं होना, यह देख क्या किया " कहकर मैंने अपने अपने लिंग पर हाथ रक्खा जो अब फिर से फुफकार रहा था और पैंट के एक तरफ के किनारे को ऊपर कर लिंग की चमड़ी को पूरा पीछे खींच भरपूर लाल सुपाड़े की झलक उसे दिखाई, लिंग था मोटा और लाल, उसकी आँखें पथरा सी गयीं, एकटक निहारने लगी,

"आआअ, उईई, यह क्या है....आआआआ..शी शी शी शी........ओह हो यह क्या है ...." कोमल का चेहरा आश्चर्य से भरा था, आँखें सुपाड़े पर अटकी थी,

और आवाज़ भारी हो गयी जैसे गले में रुंध गयी हो, लिंग फडफडा रहा था, शिष्न बिंदु पर रस की बूँद दिख रही थी, उसने मुझे देखा,
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
"देख क्या किया, यही रस है, तुमने ऐसा किया " कहकर मैंने सिस्न चमड़ी को आगे पीछे किया, रस की बूँद स्पष्ट थी, सिस्न चिकना और गीला हो गया, कोमल देखे जा रही थी लिंग का रूप, उससे रहा नहीं गया और अनायास वो सिस्न पर फूँक मारने लगी, साथ ही अजीब सी आवाज़ भी कर थी, आह ऊह्ह ... उसने कहा "मैंने तो रात को इसे छुआ भी नहीं फिर यह ऐसा रस सा क्या निकल रहा है " ........ कोमल के नजरें मादक थी, लग रहा था वो सिस्न को हाथ में लेने के लिए बेताब थी, गुस्सा होना तो दूर वो तो अचरज से मरी जा रही थी जैसे कोई बच्चा नए खिलौने के लिए व्याकुल हो, मैं कुछ कहता इससे पहले ही कोमल ने हाथ आगे बढ़ा कर सिस्न को पकड़ लिया और अपने हाथों से चमड़ी को आगे पीछे करने लगी और साथ ही फूँक मार रही थी, लिंग से जैसे लावा ही फूट पड़ेगा ऐसा लगा, मैं किसी और ही दुनिया में था, विश्वास नहीं हो रहा था की कोमल ने मेरे लिंग को थाम रक्खा था और उसे सहला रही थी, " क्या चीज़ है .... आह्ह्ह्ह ये ऐसा क्यों हो गया, इतना लाल और लगता है रो रहा है, ...." कोमल बोल रही थी, उसने मुझे देखा, आँखों में जैसे गुलाबी नशा....."तुमने इसे छोड़ दिया और चोकलेट नहीं खिलाई इसलिए रो रहा है..." मैं बोला और कोमल को कंधे पकड़ कर खड़ा किया, अब उसके होंठ मेरे सामने थे, मैंने धीरे से उनको चूमा, और हाथ कमर के पीछे बाँध उसे आगोश में भर लिया, उसके स्तन मेरे सीने से दब रहे थे, उसने भी मेरे कमर में हाथ डाल मझे अपने से सटा लिया, मैं समझ गया वो लाल मस्त लिंग को देख कर गरम हो गयी थी और सब कुछ भूल कर वासना में बह गयी थी, कोमल की हालत मदहोश जैसी हो गयी, वो मेरे हाथों पर गिर पडी, धीरे से उसे पलंग पर लेटाया..........सिस्न उसके हाथों में पकड़ा कर कुर्ती के ऊपर से उसके उरोजों को सहलाने लगा, धीरे धीरे स्तनों को सहला रहा था, दबा रहा था, मेरा हर काम उसकी कामाग्नी बढ़ा रहा था, उसके मुहं से अजीब सी आवाजें निकल रही थी, मेरे सिस्न को छोड़ने को तैयार ही नहीं, उसे खींच रही थी , दबा रही थी....सिस्न रस से लसपस था, मैंने कुर्ती के ऊपर के बटन खोले बहुत सावधानी से की उसको किसी प्रकार का डर ना लगे.....
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
सिस्न रस से लसपस था, मैंने कुर्ती के ऊपर के बटन खोले बहुत सावधानी से की उसको किसी प्रकार का डर ना लगे.........दुधिया उरोजों की उठान, कोमल की सांसें तेज चल रही थी, मेरे लिंग के साथ बहुत मजे से खेल रही थी, उसे खींचना, पकड़ कर मचोड़ देना और पूरे लाल सुपाड़े को निकाल कर उसपर फूंक मारना, हैरानी और प्यार से देखना, मैं भी व्याकुल था, कुर्ती के बाकी बटन खोल उरोजों को आजाद किया, मस्त बिलकुल विकसित, बहुत ही गुदाज, दूधिया चमकते उरोजों के जोड़े, गुलाबी घुन्डियाँ और ऐरोला, इस उम्र की लड़कियों का अगर शरीर विकसित हो तो अत्यंत गुदाज और वासनामयी हो जाता है, कोमल अच्छे परिवार से थी, खानपान अच्छा था, इस उम्र में खाती पीती लड़कियों के शरीर में एक प्रकार का भारीपन आजाता है और नितम्ब और कूल्हे भर जातें हैं, वक्ष विकसित हो शान से अपनी उठान दिखाते हैं, अपने वजन से भी झुकते नहीं, चोली हर समय टाईट हो जाती है, झांघें बड़ी और मांसल हो जाती हैं, योनी पट फूल उठते हैं और योनी द्वार को ढक लेते हैं जैसे किसी कीमती चीज़ का बचाव कर रहें हो, योनी पर हलके बाल आ जाते हैं, योनी श्राव शुरू हो जाता है, चेहरा भर जाता है और एक मादकता हर समय चेहरे पर रहती है, आँखें चंचल हो जाती हैं, पसीने में एक नशीली खुशबु हो जाती है, कोई रूप और शरीर की प्रसंशा करता रहे ऐसी तमन्ना इस नाबालिग उम्र में हरसमय होती है, किसी अच्छे लगने वाले का हल्का स्पर्श भी शरीर में जैसे बिजली भर देता है और खुमारी छा जाती है, कोमल की उम्र भी वही थी......
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
..मैंने सोचा भी नहीं इतनी जल्दी कोमल अपने आप को समर्पित कर देगी, लेकिन यह उस उम्र का तकाजा ही है और इस उम्र में लड़कियों के लिए अपने आप को कामवासना से बचाना बहुत मुश्किल है अगर उन्हें कोई फ़साने की कोशिस करे तो... कुछ साल के बाद यानी अगर लडकी १९-२० की हो जाती है तो थोडा मुश्किल है लेकिन कमसिन उम्र में बहुत जल्दी ही प्रभावित हो जाती हैं... कोमल के साथ यही हुआ... मैं उसके स्तनों को मसल रहा था, वो मेरे लिंग को सहला रही थी, लग रहा था लिंग से रस की धार छूट पड़ेगी, मैं हाथ नीचे सरकाकर उसकी योनी के पास लाया और उसके त्रिकोण को सहलाने लगा, मैं धीरे करना चाहता था, जल्दबाजी में कोमल डर जाती, कमसिन लड़किया जितनी जल्दी समर्पण करती हैं उतनी ही डरती भी हैं और जरा सा उतावलापन दिखाने से डर कर दूर भाग जाती हैं, उन्हें प्यार और धैर्य से नजदीक लाना होता है, उसके बाद वो आँख बंद कर आपपर भरोसा करती हैं... हम दोनों आनंद विभोर थे, दिमाग में माँ-पिताजी के वापस लौटने आने का भी भय था, मैंने कोमल के कान में कुछ प्यार भरी बातें कही और उसे अपनी योनी को दिखाने के लिए राजी किया,
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
"सिर्फ एक बार दिखाऊँगी, वो भी छूने नहीं दूंगी" वो बोली,

"तुमने मेरा कैसे छुआ और खींच खींच कर दर्द कर दिया, ठीक है एक बार देखूँगा और तुम्हारी सुसु की एक पप्पी लूँगा फिर कभी मत दिखाना" कह कर उसे मनाया, उसने शर्म से आँखें बंद कर ली, मैंने नाड़ा खोल सलवार नीचे की और उस सुन्दरता को देखता रह गया, योनी पर के बाल सुनहरे थे , सर झुकाकर एक लम्बी सांस ली और उसकी मादकता को सूँघता रहा, नरम और मुलायम, अंगुलियो से योनी पट को थोडा फैलाया, गुलाबी रेशम की दीवार खुल गयी,

" जल्दी करो जो करना है, " उसकी आवाज़ लड़खड़ा रही थी, "वहां कुछ काट रहा है " "जल्दी करो" "करो ना " और वो अपना सर जोरों से हिलाने लगी, और मेरे हाथों पर जोर से नाखून गड़ा दिए , आँखें बंद थी, और नितम्ब उठा कर बेड पर पटकने लगी, मैंने योनी पट खोल होठ और जीभ योनी के अन्दर घुसा योनी को चूसने लगा, "ओह्ह्हह्ह. आह्ह्ह.ओह्ह्ह्ह .उईईइईईए . .आअह्हाआअ...." जैसी आवाजें करने लगी,
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
"और कर" " और कर", "पूरा काट ले उसे" , "करता रह", "छोड़ मत", "जोरे से काट", "दांत गड़ा दे, काट ले", "चूसे ले" जैसी भाषा बोलने लगी, मैं जोरों से योनी को चूस रहा था और कई जगह योनी के अन्दर काट लिया, पर उसे और चाहिए था, वो पागल सी हो गयी थी, लिंग को टाईट पकड़ खींचने लगी, मेरी हालत ख़राब थी, कुछ ही छनों में लिंग ने पानी छोड़ दिया और वीर्य की धार उसके स्तनों और पेट पर गिरी, कुछ बूँद उसके चेहरे पर भी गिरीं और जैसे की उसे होश आया, "क्या हुआ, यह क्या हुआ" कहती हुई वो हडबडा कर उठ बैठी, उसे समझ में नहीं आया की क्या हुआ, मेरे लिंग के मुहं पर दूधिया वीर्य की बूँद लगी हुई थी और उसके चेहरे पेट और स्तनों पर, कुछ सेकेंड्स तो आश्चर्य से देखती रही फिर शर्मा गयी,

बोली " क्या किया तुमने मुझे" और सर झुका लिया, बिना आँख मिलाये पूछा "और यह क्या है, छी.. छी ..कैसे आया छी ..." कहकर मुहं और स्तन पर लगे वीर्य को अपनी अंगुलियो और हथेलियो से पोंछ लिया, कोमल की मासूमियत उसकी खूबसूरती को और बढ़ा रहे थे, उसने अपनी हथेलियों को सूँघा और पूछा "यह क्या है" और मेरे लिंग को देखने लगी, "इससे निकला " और मैंने सर हिलाया तो अचरज से उसकी आँखें बड़ी हो गयीं , "कैसे ", मैंने कहा " कल रात भी तुमने ऐसे ही इसे निकाला था जो मेरे अन्दर्वेअर में लगा है, यह लड़कों के लंड का रस है जो जवान सुन्दर लड़की के छूने से निकल जाता है " मैंने पहली बार लंड शब्द का इस्तेमाल किया था,

"पर रात मैंने तो तुम्हारे इसे छुआ नहीं" कोमल बोली,

"तो क्या हुआ , तुमने मुझे तो छुआ था "....
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
.. तुमने नींद में मुझे छुआ और इसे पकड़ कर इतना खींचा की इसका जूस निकल गया"
"झूठ मत बोलो, मैंने सिर्फ तुम्हारे मुंह में चोकलेट डाली थी और कुछ नहीं किया" कोमल बोली,
"सच बताओ, तुमने मुझे पप्पी नहीं ली ? " मैंने अँधेरे में तीर मारा जो निशाने पर लगा, कोमल को काटो तो खून नहीं, " बस एक बार गाल पर" आँखें झुकाकर और चेहरा घुमा कर कोमल ने जवाब दिया, मैंने कोमल के गोरे गालों पर छोटी सी पप्पी जड़ थी, वो शर्म से बोल नहीं पा रही थी, मैंने उसे खींचा और सीने से लगा कर होठों को चूस लिया, उसने भी अब जवाब दिया और मेरे सर को पकड़ जोरों से मेरे होठ अपने मुहं में लेकर चूसने लगी, हम तन्मय थे, शरीर मैं चीटियाँ चल रही थी, जलन सी होने लगी, मैंने स्तनों को दबाया और कुर्ती के बचे हुए बटन खोल कुर्ती नीचे सरका दिया, वो पूरे समय आँखें झुकाए खड़ी रही मुझे थामे हुए, और मेरे लिंग को सहलाते हुए जो कोमल के सहलाने से फिर से गर्म हो कठोर होने लगा था,..................
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
....बाँहों में मस्त जवान कली, गुदाज़ उरोजो का खुला निमंत्रण, हसीं चेहरा, गुलाबी होंठ जो वासना से थरथरा रहे थे, एक खूबसूरत उफनता हुआ स्त्री शरीर जो किसी को भी दीवाना बना दे, हम एक दुसरे के बाँहों में थे, कोमल के गोरे और चिकने स्तन उठान पर अपनी पूरी शान से जैसे किसी जवान होती लड़की........बाँहों में मस्त जवान कली, गुदाज़ उरोजो का खुला निमंत्रण, हसीं चेहरा, गुलाबी होंठ जो वासना से
थरथरा रहे थे, एक खूबसूरत उफनता हुआ स्त्री शरीर जो किसी को भी दीवाना बना दे, हम एक दुसरे के बाँहों में थे, कोमल के गोरे और चिकने स्तन उठान पर अपनी पूरी शान से जैसे किसी जवान होती लड़की के होते हैं, गुलाबी एरोला, मुहं में लेकर चूसने लगा, वो हल्की सिस्कारी भर रही थी, मेरे लिंग को दोनों हाथों से पकड़ सहला रही थी और अपनी योनी की और खींच रही थी, पूरा माहौल वासना की आग से भरा था, मुझे कुछ
होश था लेकिन कोमल पूरी तरह मदहोश, मैंने उसे चूम कर दूर हटाया, वो बहुत गर्म थी और मेरे हाथों को बुरी तरह खरोंच लिया दूर होते हुए, अपनी नाराजगी जाहिर की इस तरह, पर माँ-पिताजी आने वाले थे, मन में डर था. उसने याचना भरी आँखों से देखा जैसे कह रही हो क्यों छोड़ दिया, गालों को चूमते हुए कोमल के कानों में कहा " माँ-पिताजी आने वाले हैं, दोपहर में मिलेंगे" .... उसकी बेचैनी साफ़ दिख रही थी, मैंने सोचा भी नहीं था की एक नादान सी दिखने वाली लड़की का काम वासना से ये हाल होगा, मैं अपने कमरे में आया और आँखें बंद कर अपने भगवान को धन्यवाद् दिया जिसने ऐसा सुनेहरा मौका मुझे दिया था एक जवान मस्त लडकी को सम्भोग के लिए मेरे पास भेजा, कोमल का मस्ती भरा शरीर जैसे आँखों और दिमाग से हटने का नाम नहीं ले रहा था.... भगवान ने बहुत धैर्य और आराम से उसे बनाया था, रह रह कर उसकी बाहें , उसकी नशीली आँखें, उसके उरोजों को दबाने का आनंद, अत्यंत मस्त नितम्ब और हल्की मुस्कराहट , अभी तो उसे पूरा देखा भी नहीं था, मैं कल्पना कर रहा था उसकी
जवानी को मादरजात नंगी देखने का...,
Hollywood Nude Actresses
Disclaimer : www.indiansexstories.mobi is not in any way responsible for the content I post, for any questions contact me.
 


Possibly Related Threads...
Thread:AuthorReplies:Views:Last Post
  मौसी तेरी कमसिन चूत Le Lee 1 973 10-08-2018
Last Post: Le Lee
  कमसिन जवानी Le Lee 1 726 10-04-2018
Last Post: Le Lee
  कन्या का त्याग Penis Fire 2 20,543 05-19-2014
Last Post: Penis Fire
  पेशाब में धाध की बीमारी फंस गयी कन्या कंवारी Sex-Stories 0 12,945 05-16-2013
Last Post: Sex-Stories
  कमसिन कलियाँ Sex-Stories 116 83,266 02-16-2013
Last Post: kumarvin
  मेरी कमसिन नौकरानी सरोज Sexy Legs 4 12,275 08-02-2011
Last Post: imgigolo
  अन्तिमा की कमसिन चूत Fileserve 0 6,466 12-15-2010
Last Post: Fileserve